भागलपुर [जेएनएन]।  केंद्रीय परिवार एवं स्वास्थ्य कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने एनडीए के नेताओं को नसीहत देते हुए कहा कि वे अनर्गल बयान से बचें। राज्य सरकार लोगों के लिए बेहतर काम कर रही है। बयानबाजी के बजाए बाढ़ पीडि़तों की मदद करें। वह रविवार को सर्किट हाउस में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। मंत्री ने कहा कि एनडीए के मंत्री और नेताओं के अनर्गल बयान से राज्य और केन्द्र सरकार की  छवि खरा‍ब हो रही है। उन्होंने कहा कि मंत्री और नेता जनता के लिए कार्य करें। 

बाढ़ से निपटने के लिए दिए 613 करोड़ रुपये

बाढ़ से निपटने के सवाल का जवाब देते हुए चौबे ने कहा कि राज्य सरकार बाढ़ पीडि़तों की हर संभव मदद कर रही है। केंद्र सरकार ने राज्य को बाढ़ से निपटने के लिए 613 करोड़ रुपये की आर्थिक मदद दी है। जरूरत पढऩे पर और भी मदद दी जाएगी। इसके अलावे केंद्रीय टीम बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा कर रही है। टीम इन इलाकों में बाढ़ से हुए क्षति का भी आकलन कर रही है। भागलपुर में गंगा का जलस्तर कम हो रहा है। कहलगांव और भागलपुर के बीच कटे एनएच-80 को पानी घटते ही दुरुस्त कराया जाएगा। इसके लिए अधिकारी लगे हुए हैं।

डेंगू से निपटने के लिए लगाई गई है एम्स के डॉक्टरों की टीम

भागलपुर में डेंगू का कहर जारी है। पिछले एक महीने से अस्पताल में हर दिन डेंगू के नए मरीज भर्ती हो रहे हैं। कई ऐसे मुहल्ले हैं, जहां एक दर्जन से भी ज्यादा लोग डेंगू से पीडि़त हो चुके हैं। डेगू से निपटने के सवाल का जबाव देते हुए मंत्री ने कहा कि इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार काम कर रही है। अस्पतालों में मरीजों को कोई परेशानी ना हो, इसपर भी ध्यान रखा जा रहा है। दवाइयों की कमी नहीं है। निगम को शहर में फागिंग का निर्देश दिया गया है। इसके अलावे स्वास्थ्य विभाग की टीम लोगो को डेंगू से बचाव के लिए भी जागरूक कर रही है।

 

 

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस