भागलपुर, जेएनएन। भागलपुर जिला शौचालय के मामले में अव्वल है। अभी जिले में 36 हजार और भी शौचालय का निर्माण होना है। 25 सौ लोगों ने फिलहाल शौचालय के लिए आवेदन दिया है। इन आवेदनों की जांच कर भुगतान की जाएगी। स्वच्छ भारत मिशन व लोहिया स्वच्छता अभियान के तहत पिछले पांच वर्षों में तीन लाख 88 हजार 635 घरों में शौचालय का निर्माण हुआ है।

दो अक्टूबर 2014 को स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआत हुई थी। पूर्व में शौचालय निर्माण कराने का जिम्मा पीएचईडी के पास था। बाद में जिला जल एवं स्वच्छता मिशन को इसका जिम्मे दिया गया। जिला जल एवं स्वच्छता मिशन को एक लाख 91 हजार 926 घरों में शौचालय निर्माण का जिम्मा सौंपा गया। इनमें से एक लाख 48 हजार 613 घरों के मुखिया को भुगतान कर दिया गया है। 43 हजार 313 घर के मुखिया को भुगतान होना शेष था, लेकिन जांच में पता चला कि इनमें से 26 हजार ऐसे लाभुक हैं, जो या तो मर गए हैं या फर्जी हैं। ऐसे लोगों का नाम सूची से हटा दिया गया है। शेष बचे 17 हजार 313 लोगों के भुगतान की प्रक्रिया अंतिम दौर में है। लेआउट बेनीफीट के तहत 26 हजार 976 की इंट्री की गई, जिनमें से 16 हजार 218 का जीयो टेकिंग किया गया है। 16 हजार 262 को भुगतान कर दिया गया है। मोबाइल एप के माध्यम से आवेदन करने वाले 3879 में 364 को राशि देने की अनुमति दे दी गई है। शेष के मामले में जांच की प्रक्रिया चल रही है।

 

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

जागरण अब टेलीग्राम पर उपलब्ध

Jagran.com को अब टेलीग्राम पर फॉलो करें और देश-दुनिया की घटनाएं real time में जानें।