संवाद सूत्र, कहलगांव (भागलपुर) : NTPC कहलगांव के अधिकारियों की प्रताड़ना का नया मामला सामने आया है। बिजलीघर में कार्यरत ठेका मजदूर विपिन कुमार दास ने आत्महत्या का प्रयास किया है। कुशापुर पो. शोभनाथपुर, थाना कहलगांव के रहने वाले विपिन ने अधिकारियों की प्रताड़ना से तंग हो कर फेज टू सीसीआर बिल्डिंग से अहले सुबह तीन बजे छलांग लगाकर आत्महत्या का प्रयास किया। आनन-फानन में विपिन को बिजलीघर के जीवनज्योति चिकित्सालय ले जाया गया। वहां से उसे जेएलएनएमसीएच रेफर किया गया।

फिलवक्त उसके ग्लोकल हॉस्पिटल में भर्ती होने की सूचना है। बताया जा रहा कि जिस जगह से विपिन ने छलांग लगाई वह जमीन से लगभग पचास फीट ऊंचा है। विपिन ने अपने सुसाइड नोट और एक वायरल वीडियो में एनटीपीसी कर्मियों का नाम लिया है। उसने चार से पांच कर्मचारियों पर पर विगत एक सप्ताह से प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। विपिन ठेका एजेंसी के अंतर्गत हेल्पर का काम किया करता था।

चूंकि सीसीआर की ड्यूटी चौबीस घंटे 365 दिन काम करता है। इसलिए यहां हेल्पर को मेस की ड्यूटी में लगाया जाता है। ताकि वो अधिकारियों चाय नाश्ता उपलब्ध कराता रहे। विपिन की ड्यूटी इसी काम में नाइट शिफ्ट में थी। जिन लोगों का नाम विपिन ने लिया है वे उस पर अधिक खाने और दूसरे को खिलाने का आरोप लगा रहे थे। एनटीपीसी में काम करने के पूर्व विपिन ग्रामीण इलाकों में अखबार बांट कर जीवन यापन करता था। यह करते हुये उसने स्नातक की डिग्री हासिल की। बिजलीघर में कार्यरत श्रमिकों ने बताया कि बिजलीघर के नये अधिकारियों का व्यवहार ठेका श्रमिकों से बहुत रूखा है।

वीडियो और सुसाइड नोट इंटरनेट मीडिया तेजी के साथ वायरल हो रहे हैं। मामले के बाद से स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। मौके पर पुलिस पहुंच गई है। जांच पड़ताल की जा रही है। देखना होगा कि लगाए हुए आरोप कितने सच हैं और पुलिस आरोपियों पर क्या कुछ एक्शन लेती है।

(नोट- जागरण किसी भी वायरल वीडियो या आरोपों की पुष्टि नहीं करता है। मजदूर ने किन कारणों से ऐसा कदम उठाया, ये जांच का विषय है। आत्महत्या करना या ऐसा कदम उठाना अपराध की श्रेणी में आता है।)

Edited By: Shivam Bajpai