भागलपुर, जेएनएन। फरवरी महीने में बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के मैट्रिक और इंटर की परीक्षा शुरू होगी। दोनों परीक्षा को लेकर शिक्षा विभाग ने तैयारी शुरू कर दी है। कदाचार रोकने के लिए विशेष इंतजाम किए जाएंगे। इस बार भी आदर्श परीक्षा केंद्र पर बच्चे परीक्षा देंगे, जिन स्कूलों में सेंटर बनाए जाएंगे, वहां उपलब्ध संसाधनों की सूची मांगी गई है।

दरअसल, मैट्रिक की परीक्षा को लेकर जिले में 57 केंद्र बनाए गए हैं। मैट्रिक परीक्षा में 49700 छात्र-छात्राएं शामिल होंगे। वहीं, 42 हजार बच्चे 44 केंद्रों पर इंटर की परीक्षा देंगे। जिला शिक्षा पदाधिकारी मधुसूदन पासवान ने बताया कि भागलपुर शहर के अलावा नवगछिया और कहलगांव में भी इंटर और मैट्रिक परीक्षा के केंद्र बनाए जाएंगे।

जल्द होगी समीक्षा बैठक

कदाचार मुक्त परीक्षा को लेकर जल्द ही शिक्षा विभाग की बैठक जिला प्रशासन के साथ होगी। परीक्षा केंद्र के बाहर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था रहेगी। केंद्राधीक्षक और वीक्षकों की तैनाती से पहले सभी को विशेष प्रशिक्षण भी दिया जाएगा।

डमी प्रवेश पत्र की गलतियां सुधारी गईं

परीक्षा में छात्र-छात्राओं को किसी तरह की परेशानी न हो इसके लिए बोर्ड ने डमी प्रवेश पत्र जारी किया था। डमी प्रवेश पत्र पर छात्र का नाम, पिता का नाम, उम्र आदि की जांच की गई। इस दौरान गलतियों को सुधारा गया।

 

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस