भागलपुर [जेएनएन]। अरे, जल्दी-जल्दी करो। देर हुई तो फंस जाएंगे जाम में। करीब डेढ़ बजे दिन में आदमपुर स्थित एक शिव मंदिर में कुछ ऐसी ही अफरातफरी थी।

दरअसल, राजेश सिंह की शादी थी। बरात को पूर्णिया जाना था। महिलाएं विधि-विधान कर रही थीं, पर स्वजन परेशान थे कि देर हुई तो कहीं रास्ते में ही न फंस जाएं और शुभ मुहूर्त निकल जाए। सो, रस्म-रिवाज जल्दी-जल्दी निपटाए जा रहे थे। हर दिन जाम के कारण आम जन कितना परेशान है, यह एक उदाहरण भर है। विक्रमशिला सेतु पर जाम फिर वैसे ही था, जैसा पिछले एक सप्ताह से दिख रहा है। गाडिय़ों की लंबी कतार, कई बराती वाहन भी फंसे हुए।

दो ट्रकों के खराब होने और ओवरटेक से लगा जाम

सेतु के पाया संख्या 28 और 30 के बीच ओवरलोड दो ट्रकों के खराब हो जाने के कारण दो बजे दिन में ही सेतु पर आवागमन ठप हो गया। कुर्सेला से रजौन और सबौर तक लंबा जाम लग गया। करीब चालीस किलोमीटर तक सैकड़ों गाडिय़ां फंसी रहीं। ट्रकों को ठीक कराने में चार घंटे लगे। इसके बाद गाडिय़ां 10-15 किलोमीटर की रफ्तार में आगे बढऩे लगी। लेकिन आगे निकलने की होड़ में ओवरटेक के कारण सेतु पर फिर जाम लग गया।

एंबुलेंस भी फंसी रही

दो घंटे की मशक्कत के बाद पुलिस ने वाहनों को एक-एक कर लाइन में लगाया। इसके बाद वन-वे कर गाडिय़ों का परिचालन शुरू कराया। एक ओर से एक साथ 30-35 वाहनों को निकाला जा रहा था। फिर दूसरी ओर से। लेकिन कहलगांव से भागलपुर की ओर आने वाले ट्रकों को सबौर और जगदीशपुर से आने वाले भारी वाहनों को स्थाई बाइपास में रोककर रखा गया। सबौर और बाइपास में खड़े वाहनों को देर रात बारी-बारी से आगे बढ़ाया गया। इस दौरान बरात गाडिय़ां, एंबुलेंस भी फंसी रहीं।

बीच रास्ते से लौटे लोग

भीषण जाम की वजह से पटना, किशनगंज, पूर्णिया, अररिया, सिलीगुड़ी जाने वाले कई लोग सेतु पहुंच पथ से ही लौट गए। पूर्णिया, खगडिय़ा, बेगूसराय, मधेपुरा, सहरसा की बसें निर्धारित समय से तीन-चार घंटे विलंब से पहुंचीं।

मोकामा और गांधी सेतु पर भारी वाहनों का परिचालन बंद होने से विक्रमशिला सेतु पर दवाब काफी बढ़ गया है। ओवरलोड दो ट्रकों के सेतु पर खराब हो जाने से जाम लगा। वन-वे कर गाडिय़ों का परिचालन कराया जा रहा था। लेकिन ओवरटेक की वजह से जाम की स्थिति उत्पन्न हो रही थी। ओवरटेक करने वाले चालकों के खिलाफ कार्रवाई भी की गई। -बबलू कुमार, प्रभारी गंगा ब्रिज टीओपी।

 

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस