भागलपुर, जेएनएन। कोरोना संकट के चलते मुसीबत झेल रहे बुनकारों के लिए विधानसभा चुनाव सौगात लेकर आया है। विभिन्न राजनीतिक दलों ने इस बार चुनाव प्रचार के लिए गमछा, बैनर और अन्य सामग्रियां स्थानीय बुनकरों से लेने का मन बना लिया है। इसका एक कारण चीनी सामान का विरोध भी है।

पहले चुनाव में चीन से आए पट्टों, टोपियों, बैनरों आदि की भरमार रहती थी। बुनकर मोती अंसारी का कहना है कि चीन से आए पट्टे और बैनर आदि सस्ते होते थे। इस कारण चुनाव में इनका प्रयोग प्रचार-प्रसार के लिए होता था। इस बार चीन की धोखेबाजी के कारण स्थानीय बुनकरों को काम दिया जा रहा है, जो अच्छी पहल है। लॉकडाउन में काम बंद रहने से बुनकर आर्थिक संकट झेल रहे थे। यह पहल उनके लिए संजीवनी के समान होगी।

जदयू से मिला पांच लाख पट्टा और गमछा का आर्डर

जदयू की प्रदेश इकाई करीब पांच लाख पट्टा व गमछा खरीदने पर विचार कर रही हैं। इसका सैंपल मंगलवार को कई बुनकर पार्टी कार्यालय को उपलब्ध करा दिया है। अब बुनकरों को आर्डर का इंतजार है।

गमछे की यह है विशेषता

खादी कॉटन से तैयार गमछा, चीन के पॉलिस्टर धागे से तैयार कपड़ों के मुकाबले टिकाऊ व आरामदेह हैं। बुनकर मोती अंसारी ने बताया कि गमछा को साल भर से अधिक समय तक इस्तेमाल कर सकते हैं। हैंडलूम पर ही पार्टी का लोगो तैयार किया गया है। इसका सैंपल पार्टी कार्यालय भेज दिया गया है। अन्य पार्टियों से आर्डर मिलेगा तो उसे भी तैयार कर सकते हैं। इससे जिले के छह हजार अधिक हैंडलूम बुनकरों को रोजगार मिल जाएगा।

चुनावी मांग के आधार पर बना रहे कपड़े

लॉकडाउन से परेशान बुनकरों ने आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए राजनीतिक पार्टी के चिन्ह वाला दोपट्टा तैयार किया है। बुनकरों को उम्मीद है कि इस चुनाव में राजनीतिक पार्टियां इनके तैयार कपड़ों की खरीदारी करेंगी। हैंडलूम पर एक बुनकर रोज पांच गमछा तैयार कर सकते हैं। प्रति गमछा 30 रुपये की मजदूरी मिलेगी।

स्थानीय बुनकरों को रोजगार मिले, इसके लिए विधानसभा चुनाव में इनके द्वारा तैयार कपड़ों का इस्तेमाल करेंगे। प्रदेश भाजपा स्तर पर इसका प्रस्ताव रखा जाएगा। - रोहित पांडेय, जिलाध्यक्ष, भागलपुर, भाजपा

आत्मनिर्भर भारत के लिए जरूरी है कि स्थानीय उत्पादों का उपयोग किया जाए। चुनाव प्रचार में उपयोग होने वाला पट्टा बुनकरों से लिया जाएगा। प्रदेश अध्यक्ष के समक्ष भी प्रस्ताव रखा जाएगा। -अमर सिंह कुशवाहा, जिलाध्यक्ष, भागलपुर, लोजपा

चीन के धागे से बने कपड़े नहीं देसी सूत से के कपड़ों का उपयोग करेंगे। पहले भी पार्टी का झंडा खादी का होता था, अब पॉलिस्टर का उपयोग हो रहा है। पार्टी को भी इसका सुझाव देंगे। - चंद्रशेखर प्रसाद, जिलाध्यक्ष, भागलपुर, राजद

चीन निर्मित सामान का बहिष्कार करेंगे। हमारी सरकार खादी को बढ़ावा देने के लिए प्रयासरत हैं। स्थानीय बुनकरों का रोजगार मिले इसके लिए कार्ययोजना बनी है। चुनाव प्रचार सामग्री खादी की होगी। - डॉ. विजय कुमार सिंह, जिलाध्यक्ष, भागलपुर, जदयू

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस