जागरण संवाददाता, किशनगंज : बिहार में देह व्यापार के लिए फेमस खगड़ा रेड लाइट एरिया में कार्रवाई समय-समय पर छापेमारी तक ही सीमित है। छापेमारी के बाद पीड़िता के बयान पर दर्ज प्राथमिकी को कलमबद्ध कर पुलिस मुख्य सरगना के खिलाफ आगे की कार्रवाई करना भूल जाती है। इसका नतीजा है कि खगड़ा रेड लाइट इलाके में लगातार छापेमारी के बाद भी देह व्यापार का धंधा बंद नहीं हो पाता है और देह व्यापार के धंधा में लड़कियां लगातार कैद होती रहती हैं।

खगड़ा रेड लाइट में देह व्यापार धंधा का मुख्य सरगना कृष्णा खलीफा बताया जाता है, जिसका नेटवर्क बिहार के कई जिला सहित बंगाल तक फैला है। वहीं उसका पैठ पुलिस सहित कुछ अधिकारी तक है कि छापेमारी से पहले उसे पता चल जाता है और देह व्यापार के लिए कैद कर रखी गई लड़कियों को निकालकर अन्य सुरक्षित ठिकानों तक पहुंचा देता है। वहीं पुलिस के छापेमारी करने पहुंचने पर पुलिस टीम को बहुत बड़ी सफलता हाथ नहीं लगती।

पुलिस ऐसे मुख्य सरगना पर पीड़िता के बयान के बाद भी दर्ज कर जांच पड़ताल और उसके खिलाफ कार्रवाई भूल जाती है। आलम है सरगना पर कार्रवाई नहीं होने के कारण छापेमारी के कुछ दिनों तक रेड लाइट का इलाके में सन्नाटा पसरा रहता और फिर धीरे-धीरे गुलजार होने लगता है। 14 मई को किसी लड़की के कैद होने की सूचना पर पुलिस टीम द्वारा छापेमारी की गई थी। छापेमारी बाद पुलिस के द्वारा पांच लोगों पर नामजद प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

उस दौरान कृष्णा खलीफा उर्फ कासिम, हसीना के नाम से मशहूर अंजु देवी, मुन्नी गुडिय़ा, बेबी खातुन के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। इसके बाद नामजदों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई और कुछ दिनों के बाद फिर इलाका देह व्यापार के धंधा से गुलजार होने लगा था। इस बार भी 11 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। इसमें तीन नाम ऐसे हैं, जिसके खिलाफ पहले भी कई बार देह व्यापार संचालित करने को लेकर मामला दर्ज हो चुका है।

ऐसे सरगना देह व्यापार के धंधा कराने और लड़कियों को जबरन रखकर देह व्यापार कराने से बाज नहीं आते हैं। ऐसे धंधा संचालकों पर कार्रवाई की जरूरत है। ताकि खगड़ा रेड लाइट इलाका का पूर्णिया, पांजीपाड़ा, इस्लामपुर सहित अन्य जगहों के देह व्यापार संचालकों से नेटवर्क समाप्त हो और देह व्यापार पर अंकुश लग सके।

किशनगंज एसपी डा. इनामुल हक मेगनू ने कहा नामजद ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। ऐसे लोगों की तलाश पुलिस कर रही है जल्द ही लगातार नामजद हो रहे सरगना पर कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Shivam Bajpai