भागलपुर [जेएनएन]। सेवानिवृत्त डीएसपी के हाउस गार्ड घस्सो राय उर्फ घस्सो पासवान (60) की ईंट से कूचकर हत्या कर दी गई। मंगलवार सुबह उसका शव हवाई अड्डा रन-वे पर क्षत-विक्षत हाल में मिला। हत्यारों ने पहले उसे बुरी तरह पीटा फिर गला घोंट दिया। पहचान छिपाने के लिए ईंट से कूचकर चेहरा बिगाडऩे की कोशिश की। घस्सो की बहू रिंकू के बयान पर अज्ञात बदमाशों के विरुद्ध तिलकामांझी चौकी में प्राथमिकी दर्ज की गई है। हत्या के कारणों का अब तक पता नहीं चला है। 

जवारीपुर महादलित टोला निवासी घस्सो की पत्नी ङ्क्षरका देवी ने बताया कि वह रात को करीब आठ बजे सच्चिदानंद नगर स्थित सरस्वती पूजा मेला देखने निकला था। नाटक देखकर ही देर रात लौटने की बात कही थी। पत्नी के मुताबिक कुछ लोग उसे बुलाने आए थे। उन्हें वह नहीं पहचानती है। इस जानकारी पर सिटी डीएसपी राजवंश सिंह ने भी सरस्वती मेला में पहुंचकर वहां के कमेटी वालों से पूछताछ की। उन्होंने बताया कि कुछ लोगों ने आधी रात तक उसे मेला में देखा गया था। वहीं, घटना के विरोध में परिजन और स्थानीय लोगों ने जवारीपुर के पास एनएच-80 पर दो घंटे से अधिक समय तक जाम लगा दिया। सिटी डीएसपी और जगदीशपुर सीओ सोनू भगत की ओर से मिले मुआवजे के आश्वासन के बाद जाम हटाया गया। एसएसपी आशीष भारती ने बताया कि घटनास्थल की जांच फोरेंसिक टीम और डॉग स्क्वायड से कराई गई है। पुलिस हर बिंदु पर जांच कर रही है।
घस्सो जवारीपुर में ही सेवानिवृत्त डीएसपी इंदू शेखर झा का हाउस गार्ड था। इंदू शेखर कुछ दिनों पहले ही दिल्ली गए हुए हैं। शव की तलाशी लेने पर उसके पॉकेट से उनके घर की चाभी मिली है। परिजन ने घस्सो का मोबाइल फोन नहीं मिलने की बात कही है।

दियारा में है पुरानी रंजिश, बांह में लगी थी गोली
कुछ लोगों के मुताबिक दियारा में 517 बीघा भूमि के विवाद में घस्सो भी शामिल था। उसे भी जमीन में कुछ बीघा हिस्सा मिला था। वहीं परिजन की मानें तो कुछ वर्ष पहले घस्सो को गोली भी मारी गई थी जो बांह पर लगी थी। परिवार वाले इसे पुरानी दुश्मनी बता रहे हैं। उनका कहना है कि यदि दियारा की दुश्मनी होती तो उसे दियारा में ही अपराधी आसानी से मार सकते थे। पुरानी रंजिश में हवाई अड्डा में मारने के बात किसी के गले नहीं उतर रही है।

आपत्तिजनक स्थिति देखने पर तो नहीं हुई हत्या
स्थानीय लोगों के मुताबिक हवाई अड्डा की दीवारें कई जगह से तोड़ दी गई है। लोग उसे शार्टकट रास्ते के रूप में प्रयोग करते हैं। अंधेरा होते ही वहां देह व्यापार का धंधा शुरू हो जाता है। कुछ लोगों की मानें तो रात में मेला देखकर लौटते समय ही उसने हवाई अड्डा में कुछ ऐसा आपत्तिजनक देख लिया होगा जिसके चलते उसकी बेरहमी से हत्या की गई है।

बिना सिम का ही मोबाइल साथ ले गार्ड के हत्यारे
हवाई अड्डा रनवे पर तीन दिन पहले हुई सेवानिवृत्त डीएसपी के हाउस गार्ड घस्सो राय की हत्या मामले में अब तक हत्यारों का कोई सुराग नहीं लगा है। पुलिस को जांच में इस बात की जानकारी मिली है कि हत्यारे जो मोबाइल अपने साथ ले गए हैं। उसमें सिम नहीं लगा हुआ है। इस बात की जानकारी पुलिस को परिजनों ने दी। बेटे ने बताया कि कुछ दिनों पहले उसके पिता का मोबाइल खराब हो गया था। उस मोबाइल को ठीक कराने देने के बाद सिम को घस्सो ने घर पर रख दिया था। इसके बदल वह एक मोबाइल रखता था। जिसमें सिर्फ गाना बजता था। वहीं पुलिस इस मामले में तकनीकी और वैज्ञानिक अनुसंधान से हत्यारों तक पहुंचने के प्रयास में है। लेकिन कुछ सुराग हाथ नहीं लग रहा है।

Posted By: Dilip Shukla