अररिया [जेएनएन]। संविधान बचाओ न्‍याय यात्रा के क्रम में अररिया पहुंचे नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने लोकसभा उपचुनाव में प्रत्‍याशी को लेकर बड़ा संकेत दिया है। तेजस्‍वी ने कहा कि आज तस्‍लीमुद्दीन साहब हमारे बीच नहीं हैं, लेकिन उनके पुत्र हमारे साथ आ गए हैं। भाजपा को हराने के लिए एक मजबूत हाथ हैं। वहीं रैली में कहा कि आरएसएस और भाजपा को भगाने की शक्ति मुझे मिले।

तेजस्‍वी ने कहा कि हमें संविधान बचाना है। आरक्षण को बचाना है। आज मोदी सरकार में रोजगार नहीं मिल रहा है। जो रोजगार था, उसे छीन लिया जा रहा है। आरएसएस के कानून को लागू करने की कोशिश की जा रही है। देश बचाने का नारा देने वाले जलाने का काम कर रहे हैं। रेलवे का निजीकरण हो रहा है।

नेता प्रतिपक्ष ने आगे कहा कि तस्लीमउद्दीन साहब हमारे बीच में नहीं है। वे मुझे गोद में लेकर खिलाएं है। सरफराज आलम उनके पुत्र है। वे जदयू में घुटन महसूस कर रहे थे। अब मेरे साथ हैं। एक मजबूत हाथ हैं। मुझे भाजपा को हराना है।

सभा को संबोधित करते हुए नेता प्रतिपक्ष चुनावी रस में दिखे। उन्होंने कहा कि आरएसएस और भाजपा को भगाने की मुझे शक्ति मिलें। देश खतरें में है़। देश बचाने की सीख लालू जी पहले ही दे चुके हैं। देश में नफ़रत फैलाने की साजिश रची रही है। लालू जी की पीठ में छूरा भोंका गया है। यह काम भाजपा के साथ मिलकर नीतीश जी, मेरे चाचा जी ने किया है।

तेजस्‍वी ने कहा कि लालू जी ने सांप्रदायिक शक्तियों से कभी समझौता नहीं किया। उनका बेटा भी ऐसी शक्तियों से हाथ मिलाने में काम कभी नहीं करेगा। राजस्थान में बंगाल के मुसलमान की हत्या की जाती है। दलित की हत्या की जा रही है। हमें इसके खिलाफ संघर्ष करना है।

Posted By: Ravi Ranjan