भागलपुर [जेएनएन]। तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय प्रशासन ने छात्र संघ चुनाव कराने की घोषणा कर दी। कॉलेज स्तर पर 21 और विवि स्तर पर 28 को मतदान होगा। यह निर्णय शनिवार को छात्र संघ चुनाव के लिए गठित सलाहकार समिति की बैठक में लिया गया।

मुख्य चुनाव अधिकारी सह छात्र कल्याण संकायाध्यक्ष डॉ. योगेंद्र ने बताया कि विवि में नवंबर में छात्र संघ चुनाव होगा। कॉलेज स्तर पर 13 नवंबर से चुनाव की प्रक्रिया शुरू होगी। वहीं, विवि स्तर पर 24 से प्रक्रिया प्रारंभ होगी, जो 28 नवंबर को चुनाव और मतगणना होने के बाद पूरी होगी। कॉलेज यूनियन के चुनाव के लिए मतदाता सूची 13 नवंबर को प्रकाशित होगा।

फरवरी में हुआ था पिछला चुनाव

विवि में पिछला छात्र संघ चुनाव 16 फरवरी को हुआ था। विवि स्तर पर चुनाव कराने की तैयारी पिछले एक महीने से चल रही थी। स्नातक की कक्षा में नामांकन में विलंब के कारण चुनाव प्रक्रिया में देरी हुई। सितंबर में नए कुलपति के योगदान, त्योहारों की छुट्टियों और अक्टूबर में नाथनगर विस के उप चुनाव के कारण भी छात्र संघ चुनाव टलता रहा। स्नातक में जिन छात्रों का नामांकन 20 सितंबर तक हुआ है, वे भी वोटर होंगे।

चुनाव का कार्यक्रम (कॉलेज स्तर पर)

वोटर लिस्ट का प्रकाशन- 13 नवंबर को

नामांकन- 14 और 15 नवंबर को।

संवीक्षा- 15 नवंबर को दो बजे से

नाम वापसी- 16 नवंबर को 10 से दो बजे तक

शिकायत- 16 नवंबर को दो बजे से

शिकायत निवारण कोषांग की बैठक- 17 नवंबर को 10 से दो बजे तक

वैध उम्मीदवारों की सूची -18 नवंबर को जारी होगी

चुनाव- 21 नवंबर को 10 से चार बजे तक

मतगणना और रिजल्ट- 22 नवंबर को

चुनाव का कार्यक्रम (विवि स्तर पर)

मतदाता सूची का प्रकाशन- 24 नवंबर को

नामांकन- 25 नवंबर को 10 से चार बजे तक

संवीक्षा- 25 नवंबर को चार बजे से

नाम वापसी- 26 नवंबर को 10 से दो बजे तक

शिकायत- 26 नवंबर को 10 से दो बजे तक।

शिकायत निवारण कोषांग की बैठक- 26 नवंबर को चार बजे से

वैध उम्मीदवारों की सूची- 26 नवंबर को 10 से चार बजे तक

चुनाव- 28 नवंबर को 10 से तीन बजे तक

मतगणना और रिजल्ट- 28 नवंबर को तीन बजे से।

पीएचडी के छात्रों के लिए 28 साल की उम्र सीमा

कॉलेज स्तर पर 17 से 22 वर्ष तक की आयु के छात्र प्रत्याशी बन सकेंगे। वहीं, पीजी और एलएलबी के लिए 25 वर्ष, एलएलएम के लिएं 26 वर्ष और पीएचडी के छात्रों के लिए 28 वर्ष आयु निर्धारित की गई है।

ये लोग नहीं हो सकेंगे उम्मीदवार

जो छात्र या छात्रा परीक्षा में फेल या प्रमोटेड हुए हैं या उनपर अनुशासनिक कार्रवाई हुई है, वे उम्मीदवार नहीं बनेंगे। इसके अलावा विवि स्तर पर अगर प्राथमिकी दर्ज हुई हैं या विवि के बाहर किसी मामले में एफआइआर के बाद चार्जशीट हुआ हो तो उम्मीदवार नहीं बन सकेंगे।

खर्च की अधिकतम सीमा दो हजार

छात्र संघ चुनाव में कोई भी उम्मीदवार अधिकतम दो हजार रुपये खर्च कर सकेंगे। चुनाव प्रचार में प्रिंटेड सामग्री जैसे पंपलेट आदि का प्रत्याशी उपयोग नहीं कर सकेंगे। पोस्टर लगाने पर भी प्रतिबंध है। कॉलेजों में एक जगह निर्धारित की जाएगी, जहां हस्त लिखित पोस्टर लगाया जा सकेगा। इस चुनाव में किसी भी संगठन का प्रचार नहीं होगा। छात्रों के बीच ही प्रचार किया जा सकेगा।

प्रतिकुलपति की अध्यक्षता में हुई बैठक

पीआरओ डॉ. एसडीझा ने बताया कि प्रतिकुलपति डॉ. रामयतन प्रसाद की अध्यक्षता में बैठक हुई। बैठक में छात्र कल्याण संकायाध्यक्ष डॉ. योगेंद्र, कुलानुशासक डॉ. विलक्षण रविदास, डीन डॉ. बहादुर मिश्र और डॉ. रेखा सिन्हा, टीएनबी कॉलेज के प्राचार्य डॉ.संजय कुमार चौधरी, एसएम कॉलेज की प्राचार्या डॉ. अर्चना ठाकुर और मारवाड़ी कॉलेज के प्राचार्य डॉ. गुरुदेव पोद्दार शामिल थे।

पांच पदों पर होंगे चुनाव

कॉलेज और विवि दोनों स्तर पर पांच पदों के लिए चुनाव होंगे। इसमें अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, महासचिव, संयुक्त सचिव और कोषाध्यक्ष। प्रत्येक एक हजार या उससे कम छात्रों पर एक यूआर (विवि प्रतिनिधि) का चुनाव होगा।

उम्मीदवारों के लिए शर्तें

-चुनाव में प्रथम श्रेणी मजिस्ट्रेट से शपथ प्रमाण-पत्र लेना अनिवार्य नहीं है। नॉटरी के द्वारा जारी शपथ पत्र मान्य होगा।

-उम्मीदवारों के लिए 75 प्रतिशत उपस्थिति अनिवार्य है।

-जन्मतिथि के सत्यापन के लिए स्वअभिप्रमाणित मैट्रिक परीक्षा प्रमाण-पत्र मान्य होगा।

-उम्मीदवार पब्लिक वाहन का प्रयोग नहीं कर सकेंगे।

-गत चुनाव में यदि किसी पद के लिए उम्मीदवार रहे हों तो इस बार उम्मीदवार नहीं हो सकते हैं।

-किसी प्रकार का पब्लिक मिटिंग और जुलूस निकालने पर प्रतिबंध। घृणा फैलाने पर उम्मीदवारी रद्द हो जायेगी।

-कक्षा को बाधित नहीं कर सकते हैं। पुरुष छात्रावास में रात 10 बजे तक, वहीं महिला छात्रावास में शाम 6 बजे तक प्रचार की अनुमति दी गई है।

-चुनाव में हुए खर्चों का ब्यौरा नहीं देने पर पद से हटा दिया जायेगा।

-संस्थान से बाहर के चुनाव प्रचार पर रोक।

-यूआर अधिकतम 2 बार चुनाव लड़ सकते हैं।

महिलाओं के लिए दो पद आरक्षित

-दूसरे चरण के चुनाव में 5 पदों एवं 11 कार्यसमिति सदस्यों का चयन, जिसमें 2 महिला सदस्यों का होना अनिवार्य है।

-इस बार के चुनाव में कुल मतदाताओं की संख्या लगभग एक लाख होगी।

-मतदाता किसी भी रंग के कलम का प्रयोग मतदान के लिये कर सकते है।

- मतदाता के लिए कोई उम्र सीमा नहीं है।

-20 सितंबर तक जिनका दाखिला हो गया है, वे मतदाता होंगे।

 

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस