संवाद सूत्र, कहलगांव। अमडंडा थाना क्षेत्र के गोकुलपुर गांव में ताला सोरेन के 19 वर्षीय पुत्र दिलीप सोरेन ने मेला घूमने के लिए पांच सौ रुपये नहीं देने पर 35 वर्षीय सौतेली मां मरसेला मुर्मू की हत्या कर दी। आरोपित ने हत्या के बाद थाने में जाकर पुलिस के समक्ष सरेंडर कर दिया। उसने पुलिस के समक्ष अपना अपराध स्वीकार कर लिया है।

बताया जाता है कि दशहरा के दौरान मेला देखने के लिए दिलीप ने मां से पांच सौ रुपये की मांग की, लेकिन मरसेला मुर्मू एक सौ रुपये ही दे रही थी। इसको लेकर वह गुस्से में आ गया। इसके बाद उसने मरसेला के सिर पर कुदाल से वार कर दिया। इतने से ही भी उसका जी नहीं भरा तो उसने नुकिले हथियार से सिर में लगातार वार किया जब तक महिला ने दम नहीं तोड़ा।

घटना के वक्त घर में कोई और नहीं था। सूचना मिलते ही ग्रामीणों की भीड़ घर पर जुट गई। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने जांच कर शव पोस्टमार्टम के लिए भागलपुर भेज दिया। मृतका का पति ताला सोरेन झारखंड में पुलिस पद पर कार्यरत है। पहली पत्नी की मौत के बाद उसने दूसरी शादी की थी। घटना की सूचना मिलते ही पति भी पहुंच गया है। घर में छोटे बच्चे एवं स्वजनों के रोने- विलखने से स्थिति हृदयविदारक बनी हुई है।

  • - आरोपित ने कुदाल से किया वार
  • - इतने से ही मन नहीं भरा तो सिर में नुकिले हथियार से मारा
  • - हत्या के बाद थाना में जाकर किया सरेंडर

पिटाई से युवती की मौत, मां को बनाया आरोपित

संसू, जोकीहाट, (अररिया)। महलगांव थाना क्षेत्र के भंसिया पंचायत अंतर्गत पदमपुर गांव में एक युवती की शुक्रवार को हत्या कर दी गई। हत्या का आरोप मृत युवती की मां पर लगाते हुए उसकी दादी ने महलगांव थाना में केस दर्ज करवाई है। मृतका का नाम बीबी बुधनी, पिता असद है। सूचना मिलते ही महलगांव ओपीध्यक्ष गुलाम शाहबाज ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल अररिया भेज दिया। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है ओपीध्यक्ष ने बताया कि दादी के द्वारा दिए गए आवेदन में लिखा गया है कि उनके माता-पिता बुधनी की बेरहमी से पिटाई करते थे। शुक्रवार को पिटाई के क्रम में ही युवती की मौत हो गई। थानाध्यक्ष ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही हत्या के कारण का पता चल सकेगा। वैसे गांव में जितने लोग उतनी बातें हो रही है। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है।

Edited By: Shivam Bajpai