भागलपुर [जेएनएन]। दैनिक जागरण कार्यालय में लोकप्रिय कार्यक्रम हेलो डॉक्टर का आयोजन किया गया। जवाहरलाल नेहरू चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल के नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. पुनीत परशुरामपुरिया ने फोन के माध्यम से पाठकों की समस्याओं का समाधान किया। उन्होंने कहा कि कम उम्र में बच्चों की आंखें इसलिए खराब हो रही हैं कि वे हर वक्त मोबाइल का उपयोग करते हैं। ऐसे बच्चों को छोटी उम्र में भी चश्मा की जरूरत पडऩे लगी है। उन्होंने कहा कि घंटों मोबाइल और कंप्यूटर पर आंखें गड़ाए रखना, कम रोशनी में पढऩा और बिस्तर पर लेट कर पढऩे से आंखों की रोशनी प्रभावित होती है। कंप्यूटर हो या मोबाइल प्रत्येक 30 मिनट पर काम बंद देना चाहिए। लगातार कार्य करने से आंखों की पलक स्क्रीन पर गड़ी रहती हैं, जो नुकसानदेह है।

खानपान में हरी सब्जी, पीला फल आदि का सेवन करने से आंखों की रोशनी बरकरार रहती है। छह से आठ घंटे सोने से आंखें स्वस्थ रहती हैं। एलर्जी और आंखों में चोट लगने, धूल और धूप से आंखें लाल हो सकती हैं। बच्चों को धूप में निकालने से पहले काला चश्मा लगाने से एलर्जी से बचाव होगा। जब भी पढऩे वक्त आंखों से पानी गिरने लगे, सिर में दर्द हो आंखों की रोशनी की जांच करवा लेना चाहिए।

प्रश्न : मोबाइल उपयोग करते समय किस तरह का चश्मा पहनना चाहिए। ताकि आंखें प्रभावित नहीं हो। - मो. वसीर अंसारी, पीरपैंती

मोबाइल उपयोग करते समय ब्लूकट ग्लासयुक्त चश्मा का उपयोग करने से आंखों पर कम असर पड़ेगा। यह ग्लास मोबाइल की तेज रोशनी को रोकता है।

प्रश्न : मेरी उम्र 70 वर्ष है। दायीं आंख से बल्ब देखने पर उसकी रोशनी का रंग बदल जाता है। - एसएस रजा, भीखनपुर

हो सकता है आपको काला मोतियाबिंद हो गया हो, अस्पताल में डॉक्टर से इलाज करवा लें।

प्रश्न : मैं 17 वर्ष का हूं। पढ़ाई करते वक्त एक घंटे बाद आंखों में जलन होने लगती है। - ब्रजेश कुमार, सुर्खीकल

आंखों का व्यायाम करें। आंख से एक हाथ की दूरी पर पेंसिल या पेन की नोक को रखें और उसे आंख के पास धीरे-धीरे लाए और दूर ले जाएं। इससे आंखों की थकान दूर होगी।

प्रश्न : चार माह से आंख के सामने वस्तु घूमती दिखाई देती है। - मो. शहंशाह, शाहकुंड

रेटिना की जांच करवा लें। रेटिना का पर्दा सही है तो कोई समस्या नहीं है।

प्रश्न : आंखें लाल हो जाती हैं और पानी गिरने लगता है। - मो. आफताब अंसारी, खरीक

आंसू की थैली बंद होगी, ऑपरेशन से ठीक हो सकता है, जांच करवा लें।

प्रश्न : मां का मोतियाबिंद का ऑपरेशन हुआ है। आंख में दर्द रहता है। - प्रणव कुमार झा, बेंगलुरु

ऑपरेशन के बाद आंख में सुखापन रहता है। डॉक्टर से दिखा लें।

प्रश्न : छह माह से आंखों में दर्द रहता है। चश्मा नहीं लगाते हैं। - सुबोध झा, नारायणपुर

आंख की जांच करवा लें। रोशनी कम होने से आंख में दर्द हो सकता है।

प्रश्न : मेरी उम्र 42 वर्ष है। आंखों में जलन और दूर देखने में परेशानी होती है। - सोनू कुमार, सुल्तानगंज

मोबाइल का ज्यादा देर तक लगातार उपयोग करने से आंखें प्रभावित होती हैं। इसके अलावा धूल और धूप से एलर्जी होने पर भी आंखों में जलन और लाल हो जाती हैं। जब भी मोबाइल का उपयोग करें रोशनी में करें, अंधेरे कमरे में नहीं। ब्लूकट ग्लासयुक्त चश्मा लगाएं।

प्रश्न : मेरी बांयी आंख का प्रेशर बढ़ा है। - राजेश कुमार, पीरपैंती

ग्लूकोमा हो सकता है। नेत्र रोग विशेषज्ञ से दिखा लें। बिना चिकित्सक की सलाह से कोई दवा नहीं खाएं।

प्रश्न : मरी उम्र 15 वर्ष है। आंख में दर्द होता है और पानी निकलता है। - संजना कुमारी, असरगंज

एलर्जी की वजह से हो सकता है। चिकित्सक से दिखा लें।

यह भी पढ़ें          PHED Minister ने कहा, अप्रैल से आर्सेनिक व फ्लोराइड मुक्त पानी पीएंगे जिले के लोग, शीघ्र खुलेगा प्रयोगशाला Bhagalpur News

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस