भागलपुर [जेएनएन]। जिले में दुर्गा पूजा मेला और विसर्जन जुलूस के दौरान छह हजार लोगों से शांति भंग होने का खतरा है। अशांति फैलाने की आशंका पर जिले के अलग-अलग थानेदारों व चौकी इंचार्ज ने इनके विरुद्ध 107 की कार्रवाई की है। इसके अलावा दर्जनों लोगों से बांड भराया गया है। यह जानकारी एसएसपी आशीष भारती ने क्राइम मीटिंग के बाद दी।

दुर्गा पूजा के दौरान आयोजन समिति और डीजे संचालकों से शपथ पत्र लिया जाएगा। ताकि किसी तरह की गड़बड़ी होने पर जिम्मेदारों पर कार्रवाई की जा सके। एसएसपी आशीष भारती ने थानेदारों व चौकी इंचार्ज को पूजा समिति से जुड़े डीजे वालों की सूची बनाने का निर्देश दिया है। मेले के दौरान छिनतई और चोरी की घटनाएं न हो इसके लिए बैंक के आसपास संदिग्धों पर विशेष नजर रखने और गश्ती बढ़ाने का निर्देश दिया। इसके साथ ही बाढग़्रस्त इलाकों में संबंधित थानेदारों को नाव या अन्य साधनों से गश्त करने कहा ताकि वहां लोगों के घर सुरक्षित रहे।

18 बिंदुओं पर एसएसपी ने थानेदारों से ली रिपोर्ट

एसएसपी ने क्राइम मीटिंग के दौरान डीएसपी से पांच, इंस्पेक्टर से नौ और थानेदारों से चार बिंदुओं पर रिपोर्ट तलब की है। उन्होंने बेहतर और फिसड्डी जांचकर्ता व अफसरों की सूची मांगी है। इसके अलावा अविवाहित लड़कियों के आत्महत्या, अप्राकृतिक मौत समेत अन्य जानकारियां मांगी थी। जिन जांचकर्ता ने अपने केस का प्रभार नहीं दिया है। उनकी सूची भी मांगी गई है। पीरपैंती थानेदार को बेहतर केस निष्पादन के लिए पुरस्कृत किया जाएगा।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस