संवाद सहयोगी, लखीसराय। लखीसराय जिले के सूर्यगढ़ा प्रखंड अंतर्गत अरमा गांव में लुधियाना व औरंगाबाद के भोले-भाले लोगों को लाटरी से पैसे आने का झांसा देकर बैंक में राशि जमा कराकर ठगी करने वाला गिरोह सक्रिय है। औरंगाबाद एवं लुधियाना स्थित पंजाब नेशनल बैंक की सूचना पर सूर्यगढ़ा स्थित पंजाब नेशनल बैंक के शाखा प्रबंधक प्रभु कुमार ने अरमा गांव के चार लोगों के बैंक खातों को चिन्हित कर उनसे राशि की निकासी किए जाने पर रोक लगा दी है। इस संबंध में बैंक प्रबंधक ने सूर्यगढ़ा थाने को भी सूचना दी है।

शाखा प्रबंधक प्रभु कुमार ने बताया कि औरंगाबाद एवं लुधियाना स्थित पंजाब नेशनल बैंक की शाखाओं से उन्हें सूचना दी गई कि उनकी बैंक शाखा स्थित कुछ खातों में ठगी की राशि मंगवाई जा रही है। उसमें औरंगाबाद एवं लुधियाना के कुछ लोग ठगी के शिकार हुए हैं। एक व्यक्ति द्वारा फोन से भोले-भाले लोगों को लाटरी में मोटी रकम फंसने का झांसा देकर राशि की निकासी करने के लिए बैंक खाता में राशि जमा कराई जाती है। जमा कराई गई राशि की विभिन्न जगहों के एटीएम के माध्यम से निकासी कर ली जाती है। उस सूचना के आधार पर अरमा गांव के चार लोगों के पंजाब नेशनल बैंक सूर्यगढ़ा स्थित खातों को चिह्नित कर उनसे राशि की निकासी पर रोक लगा दी गई है।

उन्होंने बताया कि छानबीन में पता चला है कि अरमा के सेठो सिंह के पुत्र सुनील कुमार ने अरमा गांव के कई लोगों के खाते पंजाब नेशनल बैंक की सूर्यगढ़ा शाखा में खुलवाए हैं। सभी लोगों को एक हजार पांच सौ रुपये प्रतिमाह देने का आश्वासन देकर उनके एटीएम कार्ड, पिन, मोबाइल के सिम आदि ले लिए गए हैं। उन्होंने कहा कि अभी तक अरमा गांव के चार लोगों के खाते पर ठगी की राशि मंगवाकर पश्चिम बंगाल के बद्र्धमान आदि जगहों की एटीएम से राशि की निकासी करने का मामला प्रकाश में आया है। अरमा गांव के अन्य लोगों के खाता की भी जांच की जा रही है। साथ ही आवश्यक कार्रवाई करने को लेकर बैंक के वरीय पदाधिकारियों से विचार-विमर्श किया जा रहा है।

Edited By: Dilip Kumar Shukla