भागलपुर [जेएनएन]। नगर निगम में मेयर सीमा साहा की अध्यक्षता में सशक्त स्थायी समिति की बैठक हुई। सफाई व्यवस्था में सुधार और पेयजल समेत विभिन्न लंबित योजना को धरातल पर उतारने का निर्णय लिया गया। गीला और सूखा कचरा अलग-अलग रखने के लिए पहले चरण में 10 हजार कूड़ेदान का वितरण होगा। मॉडल के तौर पर नाथनगर क्षेत्र के एक से पांच वार्डों में 27 नवंबर से कूड़ेदान का वितरण किया जाएगा। इसके बाद शहर के 74 हजार घरों और अपार्टमेंट में 1.5 लाख कूड़ेदान का वितरण होगा।

घरों से कूड़ा संग्रहण के लिए एक वार्ड में पांच ठेला उपलब्ध कराए जाएंगे। इसकी खरीदारी की प्रक्रिया जैम पोर्टल से शुरू हो गई है। मेयर ने आउटसोर्सिंग एजेंसी को शहर की सफाई व्यवस्था देने का प्रस्ताव रखा है। इस पर सभी सदस्यों ने सहमति जता दी है। नगर आयुक्त जे. प्रियदर्शिनी ने एजेंसी के चयन को लेकर अलग से बैठक करने पर सहमती जताई है। पटना की तर्ज पर भागलपुर में भी होल्डिंग टैक्स वसूली का कार्य एजेंसी को सौंपा जाएगा। इससे आंतरिक संसाधन के आय में वृद्धि होगी।

कनकैथी के अलावा सबौर, नाथनगर और जगदीशपुर प्रखंड में डंपिंग ग्राउंड बनाया जाएगा। इसके के लिए संबंधित अंचल अधिकारी से सहयोग मांगा जाएगा। जगह चिन्हित करने का निर्देश दिया गया। डंपिंग ग्राउंड में चारदीवारी और सड़क निर्माण नहीं होने पर नगर आयुक्त ने योजना शाखा प्रभारी आदित्य जायसवाल को फटकार लगाया। साथ ही 15 दिनों में कार्य पूरा करने का टास्क दिया। लंबित योजनाओं पर अब ठेकेदार की निविदा को रद करने का निर्णय लिया गया है। जिन ठेकेदारों ने दो वर्षों से योजना को लंबित रखा है उनकी पहचान कर काली सूची में डालने की कार्रवाई होगी। योजना शाखा प्रभारी से तीन दिनों में आधी-अधूरी योजना की सूची मांगी गई है। कच्ची गली नाली योजना का कार्य नहीं होने की शिकायत पर अभियंता से वार्ड वार सर्वे कराया जाएगा।

शहर में जलापूर्ति योजना से 19 डीप बोङ्क्षरग के कार्यों में विलंब को लेकर नगर आयुक्त ने जलकल अधीक्षक हरेराम चौधरी को फटकार लगाई। कई जगह बोङ्क्षरग में पाइप और चाबी की कमी से लोगों को पानी की सुविधा नहीं मिल पा रही है। इसकी शीघ्र निविदा निकालकर अधूरे कार्य को पूरा कराने का निर्देश दिया। नगर आयुक्त ने कहा, हर हाल में एक सप्ताह में कम से कम छह डीप बोङ्क्षरग से जलापूर्ति शुरू करने का निर्देश दिया गया।

डिप्टी मेयर राजेश वर्मा ने नगर आयुक्त से जवाब मांगा कि निर्णय लेने के बाद भी काम को किन कारणों से बाधित किया जाता है। ऐसा करने वाले अधिकारी को चिन्हित कर शीघ्र कारवाई की जाए। भागलपुर स्टेशन चौक का नाला तीन वर्षों के बाद भी पूरा नहीं हुआ। ऐसे संवेदक को ब्लैक लिस्टेड किया जाए। इसके साथ निगम के दैनिक मजदूरों के लिए 311 रुपये से बढ़ाकर 425 रुपये करने का प्रस्ताव लाया है।

इस मौके पर उपनगर आयुक्त सत्येंद्र वर्मा, प्रफुल्ल चंद्र यादव, सिटी मैनेजर रवीश चंद्र वर्मा, नीतू देवी, निशा दुबे, साहिबा रानू, हंसल सिंह, सदानंद चौरसिया, फरीदा आफरीन और उषा देवी। कार्यालय अधीक्षक रेहान, आदित्य जायसवाल और जयप्रकाश यादव समेत अन्य कर्मी मौजूद थे।

इन बिंदुओं पर लिया गया प्रस्ताव

-प्रत्येक वार्ड को मिलेगा पांच ठेला, जैम पोर्टल से होगी खरीदारी

-दैनिक सफाई कर्मियों को गर्म कपड़े के लिए जैकेट दिया जाएगा

-हर वार्ड को 200 कंबल मिलेगा, 15 दिसंबर से पहले होगी खरीदारी

-तिलकामांझी हटिया रोड से हटेगा अतिक्रमण, एसडीओ को लिखा जाएगा पत्र

-हथिया नालों से हटाया जाएगा अतिक्रमण, टीम बनाकर होगा सर्वे

-हथिया नाला पर अतिक्रमण करने वाले भवनों को तोड़ा जाएगा

-अब एक महीने में नहीं बल्कि एक सप्ताह में वार्डों को मिलेगा एक बोरा ब्लीचिंग और दो बोरा चूना

-सफाई के लिए पांच वार्डों पर बनेगा एक जोन, होगी बेहतर निगरानी - निर्माण कार्य में गड़बड़ी पर अब पार्षदों के शिकायत पर होगी कार्रवाई

-सफाई संसाधन की कमी को पूरा करने को जोनल प्रभारी को मिलेगा एक लाख रुपये

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस