भागलपुर। भूख से बिलबिलाए करीब एक दर्जन से ज्यादा चंधेरी मध्य विद्यालय के बच्चे शुक्रवार को बीडीओ से मिलने बच्चे। वे मध्याह्न भोजन नहीं मिलने और शिक्षक द्वारा प्रताड़ित कर भगा दिए जाने की शिकायत लेकर पहुंचे थे। हालांकि बीडीओ से उनकी मुलाकात नहीं हो पाई।

पंचम की रिमझिम, नंदनी, दुर्गा, वर्ग तीन की सोनाली, पूजा, रीना, लक्ष्मी, वर्ग दो की खुशी, अंजली आदि ने बताया कि उनलोगों को मध्याह्न भोजन नहीं दिया गया। कहने पर थाली छीन ली और मैडम ने मार कर भगा दिया। आए दिन ऐसा होता रहता है। हमलोगों को मेन्यू के हिसाब से कभी भी भोजन नहीं कराया जाता है।

कुछ देर बाद विद्यालय प्रधान मो. शहाबउद्दीन के साथ एक महिला शिक्षिका भी प्रखंड मुख्यालय पहुंची और बच्चों को समझाकर विद्यालय ले जाने का प्रयास करने लगे। विद्यालय प्रधान ने बताया कि भोजन घट गया था इसलिए दोबारा बनाया जा रहा है।

गौरतलब है कि दिन के तीन बज रहे थे। मध्यान भोजन दिन के मध्यान में मिलने के बजाय छुट्टी होने के समय या फिर उसके बाद ही छुटे हुए बच्चों को शायद मिला होगा। यह तो एक बानगी है। विद्यालयों में मध्यान भोजन के कमोवेश यही हालात हैं। मामले की जानकारी मिली है। जांच की जाएगी। मिड डे मील में गड़बड़ी एवं बच्चों के साथ ज्यादती करने वालों पर कार्रवाई होगी।

- ममता प्रिया, बीडीओ, सबौर

By Jagran