जागरण संवाददाता, मधेपुरा। मुरलीगंज प्रखंड में राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के लिए धन संग्रह कार्यक्रम चलाया गया। भाजपा जिलाध्यक्ष स्वदेश कुमार ने बेलो पंचायत में परिवार संपर्क अभियान चलाया। मौके पर उन्होंने कहा कि 2023 में दुनियां का भव्य और दिव्य राम मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा। यह 130 करोड़ भारतीय के आस्था का केंद्र होगा। हर घर व हर व्यक्ति के सहयोग से मंदिर का निर्माण हो रहा है। इसमें सभी लोग बढ़-बढ़चकर हिस्सा ले रहे हैं। यह हर भारतीय के लिए गर्व का विषय है। एक बार फिर दुनियां हिंदुस्तान का लोहा मानेगी। इस अवसर पर सरपंच बुद्धदेव शर्मा, उपमुखिया प्रतिनिधि मणिकांत कुमार, डॉ. सुरेंद्र यादव, कैलाश यादव, रघुनंदन यादव, हरिनंदन यादव, रामचंद्र यादव, वार्ड सदस्य नीरज कुमार समेत दर्जनों लोगों ने राशि समर्पण किया। 

राम मंदिर निर्माण को लेकर समिति के सदस्य कर रहे धर संग्रह

पुरैनी प्रखंड अंतर्गत मकदमपुर पंचायत के फुलपुर व कहरटोली बस्ती में अयोध्या में निर्माण होने वाले राम मंदिर के लिए धन संग्रह अभियान का शुभारंभ किया गया। मंदिर निर्माण के लिए स्वेचछा से बढ़-चढ़कर दान की राशि देकर आमलोग अपने-आपको काफी गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। मकदमपुर पंचायत के फूलपुर व कहरटोली बस्ती में अभियान के दौरान मकदमपुर पंचायत के राम मंदिर निर्माण अभियान निधि समर्पण समिति के प्रमुख अभिमन्यु झा, सदस्य पप्पू शर्मा, दीपक आरव, संतोष साहा व आशीष कुमार आदि ने घर-घर जाकर धनसंग्रह किया। अभियान के दौरान खासकर युवा वर्गों ने दान स्वरूप राशि प्रदान करने में काफी दिलचस्पी दिखाई। निधि समर्पण समिति के प्रमुख अभिमन्यु झा ने बताया कि अभियान निधि समर्पण समिति के माध्यम से हम सभी गांव के सभी घरों पर दस्तक देकर अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए स्वेच्छा से 10 रूपए से एक हजार रुपए के कूपन के माध्यम से दान स्वरूप राशि का संग्रह करने में जुटे हैं। साथ ही संग्रह किए गए राशि को एकत्रित कर राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट में भेजने का काम करेंगे। प्रमुख ने बताया कि राम मंदिर निर्माण के लिए अभियान चलाकर जहां आमलोगों को स्वेच्छा से दान देने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। वहीं इस ऐतिहासिक एवं शुभ कार्य में किसी की सहभागिता छूटे नही इसका खास ध्यान रखा जा रहा है। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021