भागलपुर [जेएनएन]। ट्रेन और प्लेटफॉर्म पर होने वाले अपराध नियंत्रण के लिए रेल पुलिस पूरी तरह सख्त है। इसके लिए कुछ पीपी को थाना और अपराध नियंत्रण केंद्र को पीपी बनाया जाएगा। यह जानकारी यह जानकारी रविवार को रेल थाना का निरीक्षण करने पहुंचे रेल डीआइजी उमाशंकर प्रसाद ने दी। डीआइजी ने कहा कि सुल्तानगंज पीपी क्षेत्र को रेल थाना और कहलगांव अपराध नियंत्रण केंद्र को पीपी बनाने की कवायद शुरू कर दी गई है। जल्द ही यह काम पूरा कर लिया जाएगा। बांका स्टेशन पर भी रेल पुलिस का पीपी खुलेगा। इसकी तैयारी चल रही है।

डीआइजी ने कहा कि भागलपुर रेल थानों में पुलिस बल की संख्या बढ़ा दी गई है। 20 महिला जवानों की नियुक्ति कर दी गई है। इसके बाद स्टेशन और ट्रेनों की सुरक्षा सख्त होगी। उन्होंने कहा कि जमालपुर रेल जिला के सभी थानों में बलों की संख्या बढ़ाई गई है। डीआइजी थानाध्यक्ष और पुलिस कर्मियों को कर्तव्य पालन का पाठ पढ़ाते हुए अपराध रोकथाम को लेकर कई निर्देश दिए। काम में लापरवाही बरतने वाले पुलिस पदाधिकारियों पर गाज गिरेगी। अच्छे काम करने वाले पुरस्कृत होंगे। डीआइजी ने पुलिस कर्मियों के कामों की समीक्षा की। इससे पहले थानाध्यक्ष और जवानों ने डीआइजी को गार्ड ऑफ ऑनर की सलामी दी। सलामी के बाद डीआइजी ने कतार में खड़ीं महिला सिपाही से कहा कि किसी तरह की परेशानी आए तो सीधा फोन कर संपर्क करें। यात्रियों की सुरक्षा को लेकर किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

फाइलों और रिकार्ड का खंगाला

गार्ड ऑफ ऑनर के बाद डीआइजी लंबित कांड संबंधित फाइलों को खंगाला। लंबित कांडों को शीघ्र निष्पादन करने के निर्देश दिए। ट्रेन से शराब और अन्य मादक पदार्थों की तस्करी पर पूरी तरह रोक लगाने का निर्देश दिया। कुछ पुलिस कर्मी नेम प्लेट का बैच नहीं लगाए थे। उन्होंने तुरंत संबंधित पदाधिकारियों की क्लास ली। डीआइजी शस्त्रागार और बैरक की जांच की। महिला बैरक के बारे में विस्तार से जानकारी ली।

पॉकेटमॉरों की बढ़ गई संख्या, करें नियंत्रण

डीआइजी ने रेल थानाध्यक्ष अरविंद कुमार से कहा कि हाल के दिनों में स्टेशन पर पॉकेटमारी, मोबाइल छिडनतई जैसी घटनाएं बढ़ गई है। इस पर हर हाल में नियंत्रण करें। प्लेटफॉर्म पर गश्ती और तेज करें। रोज चेकिंग अभियान चलाएं। किसी भी संदिग्ध पर नजर पड़े तो तुरंत हिरासत में लें। फरार बदमाशों की गिरफ्तारी सुनिश्चित करें।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस