भागलपुर। भागलपुर से हावड़ा के बीच प्राइवेट ट्रेन के परिचालन को लेकर मंगलवार को रेल कर्मियों ने कोचिंग डिपो में विरोध जताया। प्रदर्शन कर रेल मंत्रालय के विरोध में नारेबाजी की।

इस्टर्न रेलवे मेंस यूनियन (इआरएमयू) की भागलपुर शाखा के आह्वान पर दोपहर बाद रेल कर्मी कोचिंग डिपो में एकजुट हुए और निजीकरण की प्रतियां को जलाया। शाखा सचिव आरके सिंह ने कहा कि रेलवे जानबूझकर ट्रेनों को निजी हाथों में सौंप रही है। संयुक्त सचिव चंदन कुमार ने कहा कि प्राइवेट ट्रेन का रखरखाव भागलपुर में होगा और यहां अलग से कार्यालय आवंटित की जाएगी। निजीकरण के इस फैसले का असर रेल कर्मियों पर पड़ेगा। वहीं, पुरानी माग डीए व डीएआर, पुरानी पेंशन, लार्जेस स्कीम का भी मुद्दा उठाया। प्रदर्शन में सहायक सचिव हीरा सिंह, कार्यकारी अध्यक्ष प्रबल कुमार, सुमन झा, शम्भू राम, अजित सिंह, फूलचंद्र यादव, रॉकी कुमार, जितेंद्र, बिरजू समेत दर्जनों कर्मी थे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस