भागलपुर [जेएनएन]। दिल्ली के एम्स में भाजपा नेता और पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली की हालत नाजुक बनी हुई है। उन्हें कॉर्डियो-न्यूरो सेंटर के आईसीयू में रखा गया है। सांस लेने में तकलीफ होने के बाद जेटली 9 अगस्त को एम्स में भर्ती हुए थे। अस्पताल के सूत्रों के मुताबिक, जेटली की हालत नाजुक है। उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया है। जेटली को ईसीएमओ यानी एक्स्ट्रा-कॉर्पोरियल मेम्ब्रेन ऑक्सीजनेशन पर रखा गया है, जिसे एक्स्ट्रा-कॉर्पोरल लाइफ सपोर्ट के रूप में भी जाना जाता है। यह उन व्यक्तियों को लंबे समय तक हृदय और सांस लेने में मदद करता है, जिनके हृदय और फेफड़े सही ढंग से काम नहीं करते हैं।

अरुण जेटली के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हुए भागलपुर के भाजपाइयों ने पूजा अर्चना की। आम लोग भी उनके लिए दुआ मांग रहे हैं। लोगों की मानें तो, जेटली को अब दवा नहीं दुआ की जरूरत है। जेटली जैसे नेता बार-बार नहीं होते, इसलिए आम लोग भी उनके शीघ्र ठीक स्वस्थ होने की कामना कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि वे सक्रिय राजनीति में रहें या ना रहें, लेकिन देश को उनकी जरुरत है। देशवासी और सरकार को समय-समय पर मार्गदर्शन करना भी पड़ता है, जो जेटली जैसे नेता ही कर रहे हैं।

भागलपुर भाजपा जिलाध्यक्ष रोहित पांडेय ने कहा कि जेटली से हमारे काफी अच्छे और व्यक्तिगत संबंध हैं। भाजपा के अलावा आरएसएस और उसके अनुशांगिक संगठनों के कार्यों से उनके हमेशा मिलना होता रहा है। वे अच्छे व्यक्तित्व की धनी हैं। उन्होंने कहा वे जब भी पटना आए, उनकी भेंट रोहित पांडेय से हुई। रोहित पांडेय ने कहा कि वे शीघ्र स्वस्थ हों, ऐसी कामना है। अरुण जेटली राजनीति में एक ध्रुवतारा के समान हैं। ऐसे लोग राजनीति शुचिता के प्रतीक हैं। वे एक अच्छे वक्ता हैं। देश के सभी लोग उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना कर रहे हैं। 

इधर, जेटली के शीघ्र स्वास्थ होने की कामना लेकर दिन भर भाजपाइयों विभिन्न मंदिरों में पूजा-पाठ कर रहे हैं। इन दिनों बिहुआ-विषहरी पूजा हो रही है। भाजपा के साथ-साथ आम लोग भी मंदिर जाकर उनके लिए प्रार्थना कर रहे हैं।

इधर, जानकारी के अनुसार दिल्ली में भर्ती अरुण जेटली से मिलने भागलपुर के कई भाजपा नेता और आम लोग भी गए हुए हैं। यहां के कुछ लोग जो दिल्ली में रहते हैं, वे भी उनकी सेहत पर नजर बनाए हुए हैं। उनसे मिलने अस्पताल पहुंचे। विभिन्न मंदिरों और घरों में जेटली के स्वास्थ्य लाभ के लिए पूजा पाठ कर रहे हैं।

भागलपुर जिला के कजरैली थाना अंतर्गत तेतरहार गांव निवासी पंडित अमरेश तिवारी दिल्ली में रहते हैं। वे भी रविवार को अरुण जेटली से मिलने अस्पताल पहुंचे। पंडित अमरेश तिवारी श्यामाचरण लाहिडी वेद विद्यापीठ गुरुधाम बौंसी से वेद और कर्मकांड की शिक्षा प्राप्त किए हैं। उन्होंने कहा कि अरुण जेटली के शीघ्र स्वस्थ होने के लिए हम ईश्वर से वैदिक रीति से प्रार्थना करेंगे।

भागलपुर भाजपा के जिला उपाध्यक्ष दिलीप निराला, संतोष कुमार, विजय कुशवाहा, कन्हैया मंडल, सरस्वती कुमार, विपुल सिंह, संजीव सिंह, उमाशंकर मंडल, विजय साह, प्यारे हिन्द, पूर्व उप महापौर डॉ. प्रीति शेखर, पवन मिश्रा आदि ने भी अरुण जेटली के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की।

नई सरकार में शामिल होने से इनकार किया था

जेटली का सॉफ्ट टिश्यू कैंसर का इलाज चल रहा था। वे इस बीमारी के इलाज के लिए 13 जनवरी को न्यूयॉर्क चले गए थे और फरवरी में वापस लौटे थे। इससे पहले जेटली ने अप्रैल 2018 में भी दफ्तर जाना बंद कर दिया था। इसके बाद उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था। यहां उनका गुर्दा प्रत्यारोपण हुआ था। इसके बाद वे अगस्त से वापस दफ्तर जाने लगे थे। हालांकि, मई 2019 में उन्होंने मोदी से कह दिया था कि नई सरकार में वे शामिल नहीं हो पाएंगे।

Posted By: Dilip Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप