भागलपुर, जेएनएन। जिले में 360 किलोमीटर में बने मानव शृंखला में दस लाख के करीब लोगों ने हिस्सा लिया। कई स्थानों पर तीन से चार लाइनें बन गईं। मानव शृंखला की वीडियोग्राफी प्रशासनिक तौर पर से कराई गई। डीएम प्रणव कुमार, डीडीसी सुनील कुमार व एसएसपी आशीष भारती विक्रमशिला सेतु पर मानव शृंखला में शामिल हुए। भागलपुर जीरोमाइल से नवगछिया जीरोमाइल तक लोगों की लंबी कतार रही। वहीं प्रमंडलीय आयुक्त वंदना किनी आयुक्त कार्यालय के सामने विवेकानंद पथ पर व राज्यसभा सदस्य कहकशां परवीन तिलकामांझी चौक पर मानव शृंखला का हिस्सा बनीं। सांसद अजय मंडल घोघा में शृंखला में शामिल हुए।

विधायक सुबोध राय, लक्ष्मीकांत मंडल व गोपाल मंडल अपने-अपने क्षेत्र में उपस्थित रहे। घोरघट से जीरोमाइल तक बने मानव शृंखला में जदयू-भाजपा कार्यकर्ताओं के अलावा आम लोगों ने हिस्सा लिया। डीएम प्रणव कुमार के अनुसार महिला, पुरुष, बच्चे व बूढ़े मानव शृंखला में शामिल हुए। निर्जन स्थानों पर भी लोग भारी संख्या में जुटे रहे।

मानव शृंखला समाप्त होने के बाद ट्रैफिक जाम की समस्या खड़ी नहीं हुई। इस अभियान में सभी सामाजिक संगठनों व राजनीतिक दलों ने सहयोग किया। मानव शृंखला को लेकर 10.30 बजे से ही लोग सड़क पर जुटने लगे थे। दिन के 12 बजे से सभी सेक्टरों से दो-दो गुब्बारे उड़ाए गए जो जल-जीवन-हरियाली का संदेश दे रहे थे। बारिश के बावजूद करीब एक घंटे तक लोग मानव शृंखला बनाकर खड़े थे।

शाहकुंड में 22 किलोमीटर और बिहपुर में दस किलोमीटर मानव शृंखला का निर्माण कराया गया। नवगछिया प्रखंड में 23 किलोमीटर तक मानव शृंखला का निर्माण कराया गया। मकंदपुर चौक से टेक्नो मिशन तक आठ किलोमीटर और खलीफाबाग चौक से तेतरी तक 15 किलोमीटर तक लोगों ने हाथों में हाथ थामे रखा।

नारायणपुर प्रखंड में 13 किलोमीटर और खरीक में दस किलोमीटर लंबी मानव शृंखला बनीं। खरीक में बगरी ओवरब्रिज से चकमैदा व खरीक बाजार से खरीक चौक तक 24 हजार से अधिक लोग हाथों में हाथ थामें रहे।

नारायणपुर में आठ हजार लोग शामिल हुए। कहलगांव अनुमंडल में 94 किलोमीटर मानव शृंखला का निर्माण किया गया। एनएच-80 पर शंकरपुर पुल से मिर्जाचौकी तक 48 किलोमीटर, गोल सड़क घोघा से सन्हौला तक 20 किलोमीटर, त्रिमुहान से दिग्घी तक 16 किलोमीटर, पीरपैंती से बाराहाट तक 10 किलोमीटर तक मानव शृंखला का निर्माण किया गया।

गोराडीह में 13 किलोमीटर मानव शृंखला में 26 हजार से अधिक लोग शामिल हुए। रंगरा में 12 किलोमीटर तक लोग हाथ से हाथ मिलाए खड़ा रहे। सुल्तानगंज में 32 किलोमीटर मानव शृंखला में 37 हजार लोग शामिल हुए। सन्हौला में 24 किलोमीटर शृंखला में 63 हजार लोग शामिल हुए।

मानव शृंखला को लेकर नगर निगम कार्यालय के प्रवेश द्वार व घुरन पीर बाबा चौक को गुव्वारों से सजाया गया था। बच्चों के मनोरंजन के लिए मिक्की माउस व जोकर आदि कार्टून की सुविधा उपलब्ध कराई गई थी। लोगों को कतारबद्ध खड़े रहने के लिए सड़क पर मार्किंग व रंगोली बनाया गया था। मेयर सीमा साहा की अगुवाई में नगर निगम के कर्मी व पार्षदों ने विवेकानंद पथ और घुरन पीर बाबा चौक पर मानव शृंखला में शामिल हुए। इसमें डिप्टी मेयर राजेश वर्मा के जे. प्रियदर्शिनी भी शामिल हुई। जबकि उपनगर आयुक्त सत्येंद्र वर्मा, उपनगर आयुक्त प्रफुल्ल चंद्र यादव, रीता वर्मा व सिटी मैनेजर रवीश चंद्र वर्मा अपने प्रतिनियुक्त सेक्टर में शृंखला की निगरानी कर रहे थे। अधिकांश पार्षदों ने अपने-अपने वार्ड क्षेत्र में शृंखला बनाया।

भागलपुर जिले के जगदीशपुर प्रखंड अंतर्गत मध्य विद्यालय बलुआचक के छात्र-छात्राओं ने 19 जनवरी 2020 को मानव श्रृंखला के दौरान एक-दूसरे का हाथ पकड़कर जल-जीवन-हरियाली के समर्थन और नशामुक्ति, बाल विवाह एवं दहेज प्रथा उन्मूलन की शपथ ली। 

आनंदमूर्ति आलोक जी महाराज भी  जल-जीवन-हरियाली के समर्थन और नशामुक्ति, बाल विवाह एवं दहेज प्रथा उन्मूलन के लिए बनाई गई मानव श्रृंखला में शामिल हुए। उनके साथ गांव के सैकड़ों लोग थे। 

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस