संसू, बांका। जिले में शीतलहर का प्रकोप जारी है। पारा लगातार नीचे बना हुआ है। ऐसे मौसम में लोगों का बीमार पड़ना आम बात है। साथ ही कोरोना की तीसरी लहर की आशंका प्रबल हो गई है। ऐसे में सावधानी ही बचाव का सबसे बेहतर तरीका है। इसके लिए सबसे ज्यादा जरूरी है कि ठंड से खुद को बचाकर रखें। हमेशा गर्म कपड़े पहनें। इस मौसम में पानी कम पीने की शिकायत की वजह से भी लोग बीमारियों की चपेट में आते हैं। इसलिए पानी खूब पीएं, लेकिन इस बात का जरूर ध्यान रखें कि पीने से पहले उसे गर्म कर लें। साथ ही दिन में धूप भी सेंकें। घर में अगर अलाव की व्यवस्था हो तो उसे भी सेकें।

शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डा. सुनील कुमार चौधरी कहते हैं कि बीमारी से बचाव का सबसे बेहतर तरीका सतर्कता ही है। अगर लोग गर्म कपड़े पहनेंगे और बेवजह घरों से बाहर नहीं निकलेंगे तो उनका कई बीमारियों से बचाव होगा। बासी खाना खाने से बचें। ताजा भोजन करें और पानी भी गर्म ही पीएं। इन सावधानियों को अगर लोग बरतेंगे तो बीमारियों की चपेट में आने से बचे रहेंगे। साथ ही अभी कोरोना के नए मरीज फिर से मिलने लगे हैं। इसलिए तीसरी लहर जोर नहीं पकड़ लें इसलिए भी सावधानी बरतना जरूरी है। सबसे ज्यादा जरूरी है कि घरों से कम निकलें। किसी भी तरह की बीमारी हो तो जांच जरूर करा लें। सर्दी खांसी या अन्य तरह के लक्षण दिखाई तो कोरोना जांच जरूर कराएं।

घर पर करें व्यायामः

डा. चौधरी ने कहा कि अभी मार्निंक वाक करना सही नहीं है। अगर जाएं भी धूप खिलने के बाद जाएं। हां, घर पर व्यायाम जरूर करें। प्रतिदिन औसतन कम-से-कम 45 मिनट तक अगर घर पर व्यायाम करेंगे तो आपके शरीर की प्रतिरोधक क्षमता मजबूत रहेगी। इससे आप बीमार होने से बचे रहेंगे। अगर बीमार पड़ भी गए तो उससे आप आसानी से उबर जाएंगे।

Edited By: Abhishek Kumar