भागलपुर। लॉकडाउन में खाद्य पदार्थो की आपूर्ति के लिए रेलवे जमालपुर से हावड़ा के बीच पार्सल ट्रेन चलाने पर मंथन कर रहा है। एक से दो दिनों में इसके परिचालन पर सहमति बन जाएगी। इसका ठहराव जिले के एक स्टेशन पर होगा। इस ट्रेन में भागलपुर के व्यापारी हरी सब्जियां, फल और अन्य खाद्य पदार्थो की बुकिंग कर सकते हैं। पार्सल ट्रेन बनाने के लिए कोचों को एकजुट करने का काम भी शुरू हो गया है। पार्सल ट्रेन चलने से व्यापारियों को काफी राहत होगी।

दरअसल, लॉकडाउन में ट्रेन परिचालन बंद होने के बाद भी खाद्य पदार्थो को ले जाने के लिए मालगाड़ियों का परिचालन हो रहा है। मालगाड़ियों से सामानों की अनलोडिंग हर स्टेशनों पर संभव नहीं है। इसलिए पार्सल ट्रेन से संबंधित जिलों में खाद्य पदार्थो की आपूर्ति कराने की तैयारी की जा रही है। इधर, मंगलवार को जमालपुर में चावल-गेहूं लेकर एक मालगाड़ी पहुंची है। जिन जिलों में रेल की सुविधा नहीं है। वहां ट्रकों से खाद्यान्न को भेजा जा रहा है। वहीं, रेल सुविधा वाले जिलों में खाद्यान्न की आपूर्ति पार्सल ट्रेन से कराने की योजना है।

----------------------

10 और 12 को सूरत से पहुंचेगी पार्सल ट्रेन

भागलपुर। खाद्य पदार्थ और अन्य घरेलू सामानों को लेकर 10 और 12 अप्रैल को सूरत से भागलपुर जंक्शन पार्सल ट्रेन पहुंचेगी। भागलपुर जंक्शन पर ही दोनों पार्सल ट्रेन से सामानों की अनलोडिंग की जाएगी। इसके लिए रेलवे की ओर से निर्देश जारी किए गए हैं।

--------------------

डाउन लाइन में ईएमयू का ट्रॉयल सफल

भागलपुर। अप लाइन के बाद ईएमयू (इलेक्ट्रिक मल्टीपल यूनिट)ट्रेन की रैक का ट्रॉयल जमालपुर से साहिबगंज के बीच डाउन लाइन पर सफल रहा। ट्रॉयल के किसी भी स्टेशन और हॉल्ट पर डाउन प्लेटफॉर्म पर ईएमयू रूकने में कोई दिक्कत नहीं हुई। सफल ट्रॉयल होने से अब ईएमयू के परिचालन का रास्ता भी साफ हो गया। अब साहिबगंज से किऊल के बीच ईएमयू के परिचालन में किसी तरह की बाधाएं नहीं है। भागलपुर से शिवनारायणपुर के बीच विद्युतीकरण का सीआरएस जांच होनी है। महीने के अंत में जांच पूरा होने की उम्मीद है। सीआरएस जांच रिपोर्ट के बाद ईएमयू चलने लगेंगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस