जागरण संवाददाता, खगड़िया। स्मृतिशेष रामविलास पासवान की प्रथम बरसी पर शहरबन्नी पहुंचे चिराग पासवान ने भोज की कमान संभालते हुए लोगों को भोजन परोसा। वे कभी दही बांटते दिखाई दिए तो कभी भात। इस दौरान जब चिराग ने लोगों से पूछा कि भाई किसी को और कुछ, तो भोज में आमंत्रित पूरा शहरबन्नी भावुक हो उठा। सभी उन्हें आशीर्वाद के रूप में हाथ उठाते दिखाई दिए।

बुधवार को आयोजित हुए भोज कार्यक्रम में हजारों लोग शामिल हुए। इस दौरान चिराग पासवान ने कहा कि आज से दो दिन पूर्व पिताजी की पुण्यतिथि पर पटना में पूरे विधि विधान से बरखी के भोज का आयोजन किया गया था। गांव में भी घर परिवार के तमाम लोगों की इच्छा थी कि, यहां भी एक भोज का आयोजन किया जाए। इसीलिए हमलोग आज गांव आए।

इससे पहले चिराग पासवान ने पिता रामविलास पासवान और चाचा रामचंद्र पासवान के तैल चित्र पर पुष्प अर्पित किए। शहरबन्नी पहुंचे चिराग का लोगों ने गर्मजोशी से स्वागत भी किया और रामविलास पासवान अमर रहें के नारे से पूरा क्षेत्र गुंजायमान हो गया। वहीं, पिता के तैल चित्र पर पुष्प अर्पित करने के बाद चिराग अपनी बड़ी मम्मी राजकुमारी देवी से मिलने भी पहुंचे। राजकुमारी ने उन्हें सीने से लगा लिया और भावुक हो उठीं। ये सब कुछ देख वहां उपस्थित लोग भी भावुक हो गए। बड़ी मम्मी से मिले आशीर्वाद के बाद चिराग का चेहरा चमक उठा और वे भोज स्थल पर पहुंच गए। यहां पहले उन्होंने व्यवस्था का जायजा लिया और फिर कमान संभाल ली। 

ये भी पढ़ें : पापा रामविलास के पैतृक गांव शहरबन्नी पहुंचे चिराग पासवान, बड़ी मम्मी राजकुमारी देवी ने सीने से लगा दिया आशीर्वाद

इस मौके पर अलौली विधायक रामवृक्ष सदा, राजद जिलाध्यक्ष कुमार रंजन पप्पू' लोजपा जिलाध्यक्ष शिवराज यादव, संजय पासवान, रंजन सिंह, रतन पासवान, राकेश कुमार सिंह, सरुण पासवान, जितेंद्र पासवान, रामप्रीत गुप्ता, मंटून पासवान, नवल कुमार, मलिक कुमार, अरुण यादव, विद्यानंद पासवान, मनोरंजन सिंह आदि मौजूद थे।

Edited By: Shivam Bajpai