भागलपुर, जेएनएन। जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। गुरुवार को जिले में नये 30 कोरोना मरीज मिले हैं। लोगों में कोरोना को लेकर दहशत का माहौल है। इनमें सर्वाधिक मरीज नवगछिया के हैं। यहां 21 पॉजिटिव मरीज मिले हैं।

नाथनगर में पांच, जगदीशपुर में दो, गोपालपुर और पीरपैंती में एक-एक मरीज मिले हैं। नाथनगर में दो आशा कार्यकर्ता भी संक्रमित मिलीं। जिन्हें रेफरल अस्पताल की टीम ने जांचोपरांत मायागंज के आइसोलेशन वार्ड में इलाज के लिए भेजा है। सभी की सेंपङ्क्षलग 26 व 28 जून को ली गई थी। कोरोना मरीज में रसीदपुर दियारा की 35 वर्षीय आशा, दिग्घी की 46 वर्षीय आशा, भुआलपुर के 27 वर्षीय युवक व उसकी 25 वर्षीय बहन कजरैली के तमौनी का 38 वर्षीय युवक शामिल हैं। आशा कार्यकर्ता की मां पूर्व से संक्रमित है।

सांसद सहित 133 लोगों ने दिया सैंपल

सांसद अजय मंडल ने सदर अस्पताल में सैंपल दिया। साथ ही उनका सुरक्षा गार्ड ने भी सैंपल दिया। गुरुवार को 133 जांच के लिए सैंपल दिए गए। मायागंज की पांच नर्सों के भी सैंपल लिए गए। इनमें एक मृतक का भी सैंपल शामिल है। बताया गया कि गोशाला रोड में एक व्यक्ति की मौत हो गई, किडनी की बीमारी थी।

स्वस्थ होने पर पांच को मिली छुट्टी

स्वस्थ होने पर पांच लोगों को अस्पताल से छुट्टी दी गई। एक सप्ताह पूर्व उन्हें कोरोना पॉजिटिव होने पर अस्पताल में भर्ती किया गया था।

कोरोना की अफवाह से शव लेने नहीं आए स्वजन

गोशाला रोड में 35 वर्षीय युवक की मौत होने पर स्वजन शव उठाने नहीं आए। अफवाह फैल गई कि कोरोना से मौत हुई है। इसकी जानकारी पार्षद प्रीति शेखर को मिली तो वो आईं और शव को ले जाने के लिए सिविल सर्जन और उप नगर आयुक्त सत्येंद्र वर्मा से बात की। शव उठाने के लिए जब कोई स्वजन तैयार नहीं हुआ तो चार मजदूरों द्वारा शव उठाया गया। जांच के लिए सैंपल भी लिया गया।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस