भागलपुर। लॉकडाउन के नियम में बदलाव के बाद ट्रेन परिचालन की सुगबुगाहट तेज हो गई है। रेल पटरियों पर ट्रेनें दौड़ती दिखेंगी। भागलपुर से कई ट्रेनें स्पेशल बनाकर चलाने की तैयारी शुरू कर दी गई है। 15 अगस्त से पहले भागलपुर से कई शहरों के लिए स्पेशल ट्रेनें चलेंगी। अधिकारी इस पर मंथन कर रहे हैं। दरअसल, लॉकडाउन के बाद देश भर में यात्री ट्रेन का परिचालन बंद है। देश में अभी 200 ट्रेनें स्पेशल बनकर चल रही है। स्पेशल ट्रेन की पहली सूची में भागलपुर को बाहर कर दिया गया था। इसके बाद रेलवे ने जुलाई के पहले सप्ताह में भागलपुर से छह जोड़ी ट्रेनें चलाने को हरी झंडी मिली थी। लेकिन, नौ जुलाई से लॉकडाउन शुरू होने के बाद ट्रेनें नहीं चल सकी। अब बिहार में लॉकडाउन में छूट मिली है। इसके बाद परिचालन की कवायद शुरू कर दी गई है।

----------------

बेंगलुरु, दिल्ली, मुंबई की ट्रेनों की डिमांड ज्यादा, छह ट्रेनें चलेंगी

रेल अधिकारियों ने बताया कि बेंगलुरु, दिल्ली, मुंबई के लिए ट्रेनों की डिमांड ज्यादा है। इस कारण इन शहरों के लिए ट्रेनों का परिचालन स्पेशल के रूप में किया जाएगा। ट्रेनों के नंबर में बदलाव होंगे। सभी ट्रेनों के आगे 'एक' की जगह 'जीरो' नंबर रहेगी। भागलपुर से स्पेशल ट्रेन के रूप में छह ट्रेनें चलेंगी। इससे काफी हद तक राहत मिलेगी। भागलपुर-लोकामन्य तिलक टर्मिनल एक्सप्रेस, गुवाहटी-लोकमान्य तिलक टर्मिनल एक्सप्रेस, सूरत-भागलपुर एक्सप्रेस, भागलपुर-आनंद विहार टर्मिनल विक्रमशिला एक्सप्रेस, भागलपुर-यशवंतपुर अंग एक्सप्रेस और अगरतल्ला-देवघर साप्ताहिक ट्रेन को स्पेशल बनाकर चलाने की स्वीकृति मिल चुकी है। इन ट्रेनों के चलने से भागलपुर के अलावा बांका, लखीसराय, मुंगेर और जमुई जिलों के यात्रियों को काफी सहूलियत होगी। अभी भागलपुर के रास्ते डिब्रूगढ़ से दिल्ली के बीच ब्रह्मापुत्र मेल का परिचालन एक जून से स्पेशल के रूप में किया जा रहा है। इस ट्रेन से हर दिन सौ से सवा सौ पैसेंजर दिल्ली और अन्य शहरों के लिए जा रहे हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस