संवाद सहयोगी, नवगछिया : गोपालपुर के जदयू विधायक नरेंद्र कुमार नीरज उर्फ गोपाल मंडल की पत्नी सविता देवी पर एसडीओ यतेंद्र कुमार पाल ने आचार संहिता के उल्लंघन की प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया है। बताया गया कि 23 नवंबर को अनुमंडल कार्यालय में नामांकन के दौरान विधि-व्यवस्था के लिए दंडाधिकारी के रूप में नगर परिषद नवगछिया के प्रबंधक अजहर आलम तैनात थे। इसी दौरान जिला परिषद पद पर नामांकन के लिए विधायक की पत्नी सविता देवी पहुंची। उनके साथ विधायक और प्रस्तावक समेत दो सौ समर्थक अनावश्यक रूप से गेट के अंदर प्रवेश करने लगे। दंडाधिकारी ने रोकने का प्रयास किया पर आदेश की अवहेलना करते हुए समर्थक आगे बढ़ते रहे। काफी मशक्कत के पश्चात समर्थकों को गेट से बाहर निकाला गया। इसको लेकर दंडाधिकारी के बयान पर प्राथमिकी दर्ज की जाएगी।

गौरतलब हो कि विधायक की पत्नी ने जिला परिषद पद के लिए नामंकन कराया है। गोपाल मंडल की पत्नी ने इस्माइलपुर प्रखंड के जिला परिषद पद के लिए अनुमंडल कार्यलय नवगछिया में नामांकन करवाया। वहीं इस्माइलपुर निवासी डोमन मंडल के पुत्र कमलेश्वरी मंडल, इसी गांव के भूपेंद्र मंडल के पुत्र आशुतोष कुमार, डीमाहा निवासी सचिदानंद मंडल के पुत्र संतोष कुमार ने नामांकन करवाया। वहीं गोपालपुर प्रखंड के जिला परिषद पद के लिए मधुरंजन भारती की पत्नी काजल कुमारी ने दो सेट में नामंकन दिया।

पत्नी की उम्मीदवारी पर खुश हैं विधायक, लेकिन अब बढ़ गई मुश्किलें 

गोपालपुर विधान सभा के विधायक नरेंद्र कुमार नीरज उर्फ गोपाल मंडल ने कहा कि चुनाव केवल जिला परिषद बनने के लिए नहीं लड़ रहे हैं। यह चुनाव जिला परिषद अध्यक्ष बनने के लिए लड़ रहे हैं। चुनाव भारी मतों से जीतना हैं। क्षेत्र की जनता ने हम लोगों पर भरोसा किया हैं। ताकि जिला परिषद का अध्यक्ष बनकर क्षेत्र का विकास कर सकें। ये बातें उन्होंने नामांकन के बाद कही। लेकिन अब पत्नी पर सीओसी उल्लंघन के तहत केस दर्ज किया जाएगा। इससे मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

Edited By: Shivam Bajpai