भागलपुर [जेएनएन]। अब ऑनलाइन टिकट रद कराने के बाद रिफंड के लिए ओटीपी (वन टाइम पासवर्ड) दर्ज करना अनिवार्य होगा। रेलवे की अधिकृत कंपनी आइआरसीटीसी रिफंड मामले में कुछ बदलाव किया है। इससे यात्रियों के खाते में सीधे पैसे भेजे जाएंगे। एक नवंबर से यह नियम लागू होगा। इस संबंध में रेल मंत्रालय की ओर से नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है। इस निर्णय से टिकटों की कालाबाजारी पर भी हद तक अंकुश लगेगा और पारदर्शिता भी आएगी।

यात्रियों को हो रही थी परेशानी

दरअसल, अबतक ऑनलाइन टिकट कैंसिल कराने के बाद पैसे की वापसी में यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता था। कभी-कभी यात्रियों को एक सप्ताह तक पैसे नहीं मिलते थे।

क्या है नया नियम

-नए नियम में ऑनलाइन रेल टिकट लेते वक्त यात्री को सही मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा।

-दर्ज मोबाइल नंबर पर आइआरसीटीसी, ओटीपी और टिकट संबंधित जानकारी भेजेगी।

-टिकट किसी एप से ली गई हो या फिर एजेंट से दोनों में ही रिफंड नियम एक ही होंगे।

-रिफंड लेते वक्त यात्री के मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी भेजा जाएगा, जिसे दर्ज करना होगा। इसके बाद ही रिफंड की प्रक्रिया स्वीकृत होगी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस