भागलपुर [जेएनएन]। चेहल्लुम, कालीपूजा, दीपावली व छठ पूजा को लेकर प्रमंडलीय आयुक्त वंदना किनी ने बुधवार को भागलपुर और बांका जिले के अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने मूर्ति का विसर्जन समय से पूर्व निर्धारित रूटों से कराने का निर्देश दिया, इसके साथ उन्होंने गंगा में मूर्ति के विसर्जन पर रोक लगाने का निर्देश दिया। मूर्ति का विसर्जन तालाबों में किया जाएगा। इसके लिए दोनों जिले के डीएम और एसपी पूजा समिति के अध्यक्ष और सचिव के साथ बैठक करेंगे।

काली पूजा के दौरान डीजे पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। उन्होंने शांतिपूर्ण और सौहार्दपूर्ण माहौल में पर्व-त्योहार को संपन्न कराने को कहा। पूजा पंडालों में अग्निशमन यंत्र, मेला और विसर्जन स्थलों पर पर्याप्त रोशनी की व्यवस्था, छठ के अवसर पर घाटों की साफ-सफाई, घाटों पर बेरिकेडिंग, खतरनाक घाटों की पहचान कर बोर्ड लगाने का निर्देश दिया।

ग्रामीण क्षेत्रों में व्लीचिंग पाउडर का छिड़काव कराने का निर्देश

प्रमंडलीय आयुक्त ने डेंगू के बढ़ते मरीजों की संख्या को देखते हुए ग्रामीण क्षेत्रों में ब्लीचिंग और गैमेक्शिन पाउडर का छिड़काव करने और शहरी क्षेत्र में फॉगिंग कराने का निर्देश दिया। उपचुनाव को लेकर उन्होंने कहा कि बाढ़ प्रभावित जगहों पर मतदाता सुगमता से वोट डाल सके, इसकी व्यवस्था सुनिश्चित करें। नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में विशेष चौकसी बरतने का निर्देश दिया। बैठक में डीआइजी, दोनों जिले के डीएम, एसपी आदि मौजूद थे।

Posted By: Dilip Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप