भागलपुर, जेएनएन। भागलपुर से यशवंतपुर (बेंगलुरु) जाने वाली अंग एक्सप्रेस के यात्री अब इससे हावड़ा नहीं जा सकेंगे। ट्रेन परिचालन शुरू होने के बाद अंग एक्सप्रेस नए रूट दनकौनी के रास्ते बट्टानगर-खडग़पुर-भद्रक स्टेशन के रास्ते यशवंतपुर जाएगी। रेलवे की ओर से जारी की गई कई ट्रेनों के टाइम टेबल में हावड़ा से इस ट्रेन का पत्ता काट दिया गया है। दनकौनी स्टेशन पर अंग एक्सप्रेस का नया ठहराव दिया गया। रेलवे ने इसके लिए नोटिफिकेशन जारी कर दी है। पूर्व रेलवे और दक्षिण पूर्व रेलवे का इसकी सूचना भी दे दी गई है। दरअसल, जुलाई महीने के तीसरे सप्ताह में रेलवे बोर्ड के अधिकारियों की बैठक में हुई। दक्षिण भारत सहित दूसरे राज्यों की 15 ट्रेनों का रूट बदलने पर सहमति बनी। इसमें भागलपुर-हावड़ा के बीच चलने वाली यशवंतपुर का परिचालन भागलपुर-जमालपुर-किऊल-जसीडीह-खडग़पुर के रास्ते चलती थी। हावड़ा स्टेशन पर ट्रेनों का दवाब कम होने के कारण रेलवे ने निर्णय लिया है।

हावड़ा के लिए तीन एक्सप्रेस ट्रेन ही भागलपुर के खाते में

अंग एक्सप्रेस का परिचालन नए रूट से शुरू होने के बाद अब भागलपुर से हावड़ा के बीच तीन एक्सप्रेस और दो पैसेंजर भागलपुर के खाते में बची है। भागलपुर से यह ट्रेन हर बुधवार को चलती थी। भागलपुर से किऊल-जसीडीह के रास्ते हावड़ा जाने वाली अंग एक्सप्रेस ही एक ट्रेन है। हावड़ा नहीं जाने से दूसरे ट्रेनों पर दबाव बढ़ेगा।

पूर्व बिहार के कई जिलों के यात्री करते थे सफर

इस ट्रेन से हावड़ा जाने वाले यात्रियों की डिमांड ज्यादा है। भागलपुर के अलावा बांका, मुंगेर, लखीसराय और जमुई जिले के पैसेंजर भी इससे सफर करते थे। इस साप्ताहिक ट्रेन में आरक्षण को लेकर काफी मारामारी रहती है। सालों पर अंग एक्सप्रेस के सभी श्रेणियों में प्रतिक्षा की लंबी सूची रहती है। नागरिक उड्ययन मंत्रालय के सदस्य आशुतोष कुमार ने बताया कि नए रूट बदलाव पर मुहर लग गई है। हावड़ा स्टेशन होकर ट्रेन नहीं चलने से यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।

 

Posted By: Dilip Shukla

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस