संवाद सहयोगी, भागलपुर। शहर और आसपास के लोग जहां दशहरा के जश्न में डूबे थे, वहीं सबौर के कलालीचौक मेंही नर्सरी में विभिन्न तरह के नशा रगों में उतारा जा रहा था। यही नहीं, नशे में धुत अपराधी अपराध की योजना बना रहे थे। अचानक तड़के सबौर पुलिस दल बल के साथ शुक्रवार के दिन में तकरीबन 12:00 बजे छापामारी की। अचानक पुलिस की दबिश से अपराधियों के बीच अफरा तफरी मच गई। मौके से सबौर के मिर्जापुर का कुख्यात अपराधी प्रकाश यादव, फतेहपुर निवासी मो.  हीरा, आर्य टोला के बुधांशु सिंह को गिरफ्तार कर लिया।

इनके पास से दर्जनों की संख्या में कफ सिरप की खाली बोतले, नशा करने वाली दवा का खाली कवर, एक बोतल शराब,  एक बाइक, गांजा पीने का इंस्ट्रूमेंट पुलिस ने बरामद किया। संगीन अपराधों का आरोपी है कुख्यात प्रकाश की गिरफ्तारी बड़ी सफलता मानी जा रही है। इसके खिलाफ सबौर थाना में दर्ज कांडों के अवलोकन से स्पष्ट है कि थाना में चार कांड दर्ज हैं, जिसमें हत्या, हत्या का प्रयास, आर्म्स एक्ट ,चोरी ,रंगदारी आदि जैसे संगीन आरोप में चार्ज शीटेड प्रकाश यादव है। पुलिस इसे लंबे समय से तलाश कर रही थी। इसकी गिरफ्तारी से लोगों ने राहत की सांस ली है।

  • एक कुख्यात सहित तीन गिरफ्तार
  • नर्सरी की आड़ में चल रहा था नशे का कारोबार, बसी थी जरायम की दुनिया
  • मौके पर पहुंची पुलिस, कफ सिरप की खाली दर्जनों बोतल सहित शराब और गांजा पीने के लिए प्रयोग की जाने वाली मिट्टी की चिलम बरामद हुई है।

क्या बोले थानेदार

थानेदार सुनील कुमार झा ने बताया कि पुलिस को यह गुप्त सूचना मिली थी कि लंबे समय से नर्सरी में अपराधियों का जमावड़ा लगता है और वहां कई प्रकार के नशा का सेवन किया जाता है। साथ ही वहीं से अपराध की योजना बनाई जाती है। कई बिंदुओं पर अनुसंधान किया जा रहा है। संबंधित जगहों पर छापेमारी की जा रही है। जल्द से जल्द नशे के और भी सौदागर गिरफ्तार होंगे।

Edited By: Shivam Bajpai