संवाद सूत्र, छातापुर (सुपौल) : सांसद दिलेश्वर कामैत के नेतृत्व में मंगलवार को महागठबंधन के घटक दलों के द्वारा सतर्कता सह जागरूकता मार्च निकाला गया। प्रखंड जदयू कार्यालय से निकाले गए मार्च में जदयू व राजद के प्रदेश व जिला स्तरीय सहित स्थानीय नेता व कार्यकर्ता शामिल थे। लोगों ने झंडा व बैनर लेकर मुख्य सड़क एसएच 91 पर पैदल मार्च किया और केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

मार्च के प्रखंड कार्यालय पहुंचने पर जदयू प्रखंड अध्यक्ष डा. अजय कुमार आनंद की अध्यक्षता में नुक्कड़ सभा का आयोजन किया गया। सभा में सांसद ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार बिहार में सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने का साजिश कर रही है।इस साजिश से आमलोगों को बचाने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है। 

कमैत ने कहा कि सीएम नीतीश कुमार हमेशा बिहार और बिहार वासियों की भलाई के लिए लगातार काम कर रहे हैं। जुमलेबाज केंद्र सरकार की गलत नीतियों के कारण खासकर गरीब व मध्यम वर्गीय परिवार त्राहिमाम कर रहे हैं। महंगाई आसमान छू रही है और बेरोजगारी चरम पर है। इसका परिणाम आगामी लोकसभा चुनाव में दिखेगा और प्रदेश की सभी 40 लोकसभा सीटों पर महागठबंधन के लोग जीतकर आएंगे।

यह भी पढ़ें: जेएनयू के महबूब आलम ने पहली बार सीमांचल में लगाए थे PFI के झंडे, 10 साल पहले संगठन ने ली थी एंट्री, चौंक उठी थी सुरक्षा एजेंसी

मौके पर जदयू प्रदेश महासचिव सह सुपौल जिला संगठन प्रभारी ई. सतीश कुमार सिंह, जदयू जिलाध्यक्ष राजेंद्र यादव, खुर्शीद आलम, जिला मुख्य प्रवक्ता ओमप्रकाश यादव, युवा जिलाध्यक्ष प्रमोद मंडल, प्रखंड अध्यक्ष डा. अजय कुमार आनंद, राजद प्रखंड अध्यक्ष मु. हसन अंसारी, डा. विपीन कुमार, संतोष कुमार सरदार, रामेश्वर उर्फ रमेश यादव, प्रमोद कुमार यादव, फेकनारायण मंडल, मोती अहमद, राजेश यादव, प्रभु कुमार प्रेम, विजय प्रकाश यादव, ई. रामसुंदर मुखिया, अनिमेश कुमार सिंटू, अरविंद यादव, नागेश्वर मंगरदैता, अखिलेश कुमार, राजकुमार सिंह आदि उपस्थित थे।

Edited By: Shivam Bajpai

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट