भागलपुर, जेएनएन। शाहकुंड बाजार स्थित जामा मस्जिद के पास संविधान बचाओ देश बचाओ समिति के तत्वावधान में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के खिलाफ तीन दिवसीय धरना शुरू हुआ। इसकी अध्यक्षता मु,आदी अंसारी और संचालन अनिल दास ने किया।

धरना को संबोधित करते हुए बांका के पूर्व राजद सांसद जयप्रकाश नारायण यादव ने कहा कि भाजपा देश में काला कानून लागू कर लोगों में नफरत फैला रही है। संविधान की आत्मा को निकाला जा रहा है। संविधान को कायम रखने के लिए सीएए और एनआरसी को लागू नहीं होने देंगे। इसके लिए देशव्यापी आंदोलन किया जाएगा। संविधान की जीत होगी और नफरत हारेगा। जनता ने भाजपा को झारखंड और दिल्ली में नकार दिया है। अब पूरा देश नकारेगा। रालोसपा के युवा प्रदेश अध्यक्ष हिमांशु पटेल ने कहा कि सीएए और एनआरसी के खिलाफ लड़ाई जारी रहेगी। धरना को मौलाना मु. मतिऊर रहमान, पूर्व विधायक फनीद्र चौधरी, मु,मेराज, अरङ्क्षवद यादव, नवीन सिंह, मु.चांद आदि ने भी संबोधित किया।

भाकपा माले का नवगछिया में सम्मेलन 15 को

15 फरवरी को नवगछिया के कृष्णा विवाह भवन में भाकपा माले द्वारा नागरिकता बचाओ-संविधान बचाओ देश बचाओ जन एकता सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा, जिसमें भाकपा माले की पोलित ब्यूरो सदस्य कामरेड कविता कृष्णन भी शिरकत करेंगी। भाकपा माले के जिला सचिव ङ्क्षवदेश्वरी मंडल ने कहा कि जनसभा के लिए प्रशासन से नवगछिया अनुमंडल मैदान मांगा गया था, लेकिन अनुमति नहीं मिली। लिहाजा, विवाह भवन में सम्मेलन करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के खिलाफ हो रहे आंदोलन, सभा और प्रदर्शन को राज्य सरकार द्वारा रोकने की कोशिश गई है। प्रखंड सचिव रामदेव सिंह एवं जिला कमेटी सदस्य सह राज्य सह सचिव (इनौस) के गौरीशंकर राय ने कहा कि अगर विपक्ष को मैदान नहीं मिला तो सत्ता पक्ष को भी नहीं मिलनी चाहिए, अगर ऐसा हुआ तो भाकपा माले इसका विरोध करेगा और इस तानाशाही के खिलाफ जोरदार आंदोलन करेगा।

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस