पटना [जेएनएन]। बिहार के भागलपुर में सामूहिक दुष्‍कर्म में विफल दरिंदों द्वारा एक किशोरी को तेजाब से नहला देने की घटना से सनसनी अभी कायम ही है कि पूर्णिया में आठ साल की एक मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म कर उसकी हत्या की घटना सामने आ गई है। ताजा घटना पूर्णिया के टीकापट्टी थाना के एक गांव की है।

एक दिन पहले लापता बच्‍ची की मिली लाश

जानकारी के अनुसार आठ साल की एक बच्ची एक दिन पहले से ही लापता थी। परिजनों ने खोजबीन की तो घर से थोड़ी दूर पर ही उसका शव पड़ा मिला। थाना प्रभारी मनोज कुमार ने कहा कि प्रथमदृष्‍टया घटना दुष्कर्म के बाद हत्या की लग रही है। हालांकि, पोस्टमार्टम के बाद ही निश्चित तौर पर कुछ कहना संभव होगा। घटना को लेकर परिजनों ने अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई है।

पूर्णिया में चार दिनों में ऐसी दूसरी घटना

विदित हो कि पूर्णिया में चार दिनों के भीतर दुष्‍कर्म की यह दूसरी घटना है। इसके पहले 18 अप्रैल को मरंगा थाना क्षेत्र में 16 साल की एक लड़की की दुष्कर्म कर हत्या कर दी गई थी। इसके बाद 19 अप्रैल को तीन साल की एक मासूम से दुष्कर्म की कोशिश की गई थी।

सामूहिक दुष्‍कर्म में विफल रहने पर तेजाब से नहलाया

विदित हो कि दो दिन पहले शुक्रवार की शाम भागलपुर में सामूहिक दुष्कर्म में असफल रहने पर चार दरिंदों ने 17 साल की एक नाबालिग लड़की को तेजाब से नहला दिया था। उसे गंभीर हालत में भागलपुर के मायागंज अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस