भागलपुर [रजनीश]। मालदा रेल मंडल का सबसे बड़ा टे्रन मेंटनेंस (रखरखाव) रैक यार्ड भागलपुर के जगदीशपुर में बनेगा। यहां सात लाइन बिछाई जाएगी। इसमें चार पिट और तीन सटेबलिस लाइन (मेंटनेंस के बाद ट्रेनों के रखने के लिए) बनेगी। इस प्रोजेक्ट को लेकर हरी झंडी दे दी है। अधिकारियों ने सर्वे का काम शुरू कर दिया है। सर्वे रिपोर्ट बनाकर मंडल मुख्यालय को भेजा जाएगा, इसके बाद जोनल कार्यालय कोलकाता जाएगा। हरी झंडी मिलने के बाद एक से डेढ़ साल के अंदर यार्ड बनकर तैयार हो जाएगा। दरअसल, भागलपुर से कई शहरों के लिए नई ट्रेनें चलेंगी। अभी यहां यार्ड गाडिय़ों के मेंटनेंस के लिए जगह का अभाव है। इस कारण नई ट्रेनें नहीं मिल पा रही है। ट्रेनों के मेंटनेंस के लिए पिट और सटेबलिस लाइन बनाने की कवायद शुरू की गई है।

प्लेटफॉर्म पर खड़ी नहीं रहेगी ट्रेन

वर्तमान में भागलपुर रेलवे यार्ड में पिट और सिक लाइन की संख्या कम है। चार लाइन होने की वजह से ट्रेनों का रखरखाव करने में दिक्कत होती है। ऐसे में ट्रेनों को घंटों तक प्लेटफॉर्म पर ही रोककर रखा जाता है। एक ट्रेन के मेंटनेंस करने के बाद ही दूसरी ट्रेन को यार्ड में भेजा जाता है, लेकिन नए यार्ड बनने के बाद प्लेटफॉर्म पर ट्रेन खड़ी नहीं रहेगी।

हाईटेक यार्ड का चल रहा निर्माण

भागलपुर से टेकानी में रेलवे गुड्स यार्ड शिफ्ट हो जाने के बाद दो पिट लाइन का निर्माण चल रहा है। एलएचबी रैक से चलने वाली ट्रेनों के मेंटनेंस के लिए हाईटेक रेलवे यार्ड मार्च तक चालू होने की उम्मीद है। निर्माण कार्य 70 फीसद पूरा कर लिया गया है।

कई नई टे्रनें चलने का है प्रस्ताव

भागलपुर से कई टे्रनें चलने का प्रस्ताव दूसरे रेलवे जोन ने भी दिया है, लेकिन यार्ड में जगह की कमी नहीं की वजह से ट्रेनें नहीं मिल रही है। भागलपुर-पुणे, भागलपुर-जयनगर, भागलपुर-दिल्ली एक्ससप्रेस और हमसफर जैसी ट्रेनें भी आने वाले दिनों में भागलपुर से चलेंगी। यार्ड बनने से काफी हद तक सहूलियत होगी।

मुख्‍य बातें

-10 एक्सप्रेस, सुपरफास्ट ट्रेनों का होता है भागलपुर में रखरखाव

-02 से तीन नई ट्रेनें नए साल से चलने की है उम्मीद

-04 पिट लाइन है अभी भागलपुर रेलवे यार्ड में

-02 नई पिट लाइन का यार्ड में चल रहा निर्माण

-04 पिट लाइन और तीन सटेबलिस लाइन के लिए सर्वे शुरू

-13 पिट लाइन भागलपुर जंक्शन पर हो जाएंगे ट्रेनों के रखरखाव के लिए

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021