भागलपुर [जेएनएन]। 20th November 2019 को जिले की कुछ महत्‍वपूर्ण खबरें।

प्री पीएचडी परीक्षा रद

तिमांवि‍वि में प्री पीएचडी की परीक्षा के दौरान परीक्षार्थियों ने हंगामा किया। परीक्षार्थियों का आरोप था कि प्रश्न पत्र केवल अंग्रेजी में थे। परीक्षा रद कर दी गई है। तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय में बुधवार को दो पालियों में प्री पीएचडी (पीआरटी) की परीक्षा होनी थी। इसके लिए मारवाड़ी कॉलेज और टीएनबी कॉलेज केन्द्र बनाए गए थे। दोनों केन्द्रों पर बड़ी संख्या में परीक्षार्थी समय से पूर्व ही पहुंच गए। परीक्षार्थियों ने आरोप लगाया कि प्रश्नपत्र सिर्फ अंग्रेजी भाषा में है। परीक्षार्थियों ने कहा कि हिन्दी और अंग्रेजी दोनों भाषा में प्रश्नपत्र होने चाहिए। सिर्फ अंग्रेजी में प्रश्नपत्र देखकर परीक्षार्थी गुस्से में आ गए। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय के निदेशक छात्र कल्याण डॉ योगेंद्र ने परीक्षार्थियों की मांग पर दोनों केन्द्रों पर होने वाले दोनों पालियों की प्री पीएचडी की परीक्षा रद कर दिया। बता दें कि दोनों केंद्रों में कुल 1892 परीक्षार्थी शामिल होने थे।

महिला समेत दो की हत्‍या

कटिहार और सुपौल में हुए दो आपराधिक घटनाओं में एक महिला समेत दो लोगों की मौत हो गई। कटिहार में अपराधियों ने एक महिला की गोली मारकर हत्‍या कर दी। वहीं, सुपौल में एक किसान की अपराधियों ने गला रेतकर हत्‍या कर दी। कटिहार के पोठिया ओपी क्षेत्र के बखरी के समीप बाइक सवार अपराधियों ने महिला की गोली मार हत्या कर दी। घटना के तुरंत बाद पुलिस वहां पहुंची है। स्‍वजन और ग्रामीण प्रदर्शन कर रहे हैं। मामले की जांच की जा रही है। पुलिस प्रदर्शनकारियों से बात कर रही है। मृतक गीता देवी (60 वर्ष) कुर्सेला खेरिया के रहने वाले थे। उनके प‍ति जयप्रकाश ठाकुर हैं। वहीं, सुपौल के करजाइन थाना अंतर्गत भगवानपुर गांव में मंगलवार की रात्रि एक किसान की अपराधियों ने गला रेत कर हत्या कर दी। अपराधियों ने हत्या के बाद किसान के शव को एनएच के किनारे फेंक दिया गया। बुधवार की सुबह जब ग्रामीणों ने किसान का शव देखा तो वहां खलबली मच गई। घटना से आक्रोशित लोगों ने पूर्वी कोसी तटबंध, पश्चिमी कोसी तटबंध सहित पूरे रतनपुर बाजार को बंद करा दिया है।

जल संसाधन मंत्री संजय झा

राज्‍य के जल संसाधन मंत्री संजय झा बुधवार को बांका पहुंचे। उन्‍होंने चांदन डैम सहित चांदन नदी क्षेत्र का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्‍होंने जिलाधिकारी से कई जानकारियों ली। मंत्री ने चांदन नदी से हो रहे बालू उठाव पर चिंता व्‍यक्‍त की। उन्‍होंने कहा कि इससे किसानों के खेतों में पानी जाने में परेशानी होती होगी। और नदी में गहरी होती जा रही है। उन्‍होंने बालू उठाव पर सख्‍ती से रोक लगाने को कहा। वे बौंसी के चांदन डैम पहुंचे। अधिकारियों के साथ डैम का निरीक्षण किया। जिलाधिकारी कुंदन कुमार ने मंत्री को जानकारी दी कि डैम में गाद भरने से सिंचाई लायक पानी नहीं रहता है। मंत्री ने डैम से गाद निकालवाने को कहा। इस पर अधिकारियों के साथ उन्‍होंने बातचीत की।

Posted By: Dilip Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप