भागलपुर [जेएनएन]। 09sth September 2019 को जिले की कुछ महत्‍वपूर्ण खबरें।

तिमांविवि में स्‍नातक में नामांकन

तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय के अंतर्गत सभी अंगीभूत और संबद्ध कॉलेजों में स्नातक की कक्षा में सोमवार तक नामांकन होगा। सीसीडीसी डॉ. केएम सिंह ने बताया कि करीब सात हजार आवेदकों की सूची जारी हुई थी। इसके आधार पर नामांकन लिया जा रहा है। आशंका है कि इसके बाद भी कई संबद्ध कॉलेजों में नामांकन के लिए कई सीटें खाली रह जाए। ऑनलाइन नामांकन में अंगीभूत कॉलेजों में ही दवाब अधिक है।

सहरसा में शिक्षक ने की आत्‍महत्‍या

शहर के वार्ड नंबर 31 हटियागाछी मोहल्ले में एक निजी शिक्षक ने प्रेमिका से मोबाइल पर बात करने के दौरान ही फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। निजी शिक्षक सुपौल जिले के रतनपुरा का रहने वाला था और सहरसा में एक दोस्त के साथ भाड़े के मकान में रहता था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। जानकारी के अनुसार नवनीत मिश्रा (27) प्रेमिका से मोबाइल पर बात कर रहा था। इसी दौरान दूसरे कमरे में चला गया और छत के सहारे गमछा बांधकर फांसी से लटक गया। सुबह मौत की सूचना मिलने पर पहुंचे परिजनों का कहना था कि रात में उसने अपनी चाची से मोबाइल पर बात की थी और कहा था कि आज अंतिम दिन खाने का है। परिजन किसी पर कोई आरोप नहीं लगा रहे थे। वहीं साथ में रह रहे दोस्त का कहना था कि वह सो रहा था। इसी दौरान उसने दूसरे कमरे में जाकर फांसी लगा ली। सुबह घर से फोन आने पर जब नवनीत मोबाइल रिसीव नहीं कर रहा था तो उसने दूसरे कमरे में जाकर देखा तो वह फंदे से लटका हुआ था।

साइबर अपराध

भागलपुर में साइबर अपराधियों की गतिविधियां बढ़ती ही जा रही है। पिछले चार दिनों में अपराधियों ने पांच लोगों के खाते से आठ लाख रुपये उड़ा दिए। लेकिन, पुलिस किसी अपराधी को पकड़ नहीं पाई है। पिछले आठ महीने में साइबर अपराधियों ने 85 से ज्यादा लोगों को चूना लगाया है। अधिकांश मामलों में पुलिस के हाथ अपराधियों के गिरेबान तक नहीं पहुंच पाए हैं। पिछले वर्ष भी ठगी के दो सौ से ज्यादे मामले दर्ज किए गए। ज्यादातर मामलों में पुलिस ने घटना को सत्य, लेकिन सूत्रहीन बताते हुए जांच फाइल को ठंडे बस्ते में डाल दिया।

 

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस