मधेपुरा, जेएनएन। पैसे की चाहत में अपराध की बढ़ा कदम आज जेल के सलाखों के पीछे पहुंच गया। जदयू प्रखंड अध्यक्ष अशोक यादव की हत्या में शामिल मुरलीगंज के पोखराम निवासी अनिल यादव का पुत्र निष्ठू कुमार उर्फ बौआ ने पुलिस के समक्ष आत्मसर्पण कर दिया है। सोमवार को पुलिस के पूछताछ में कई मामले सामने आए। जदयू अध्यक्ष हत्या में निष्ठू शूटर की भूमिका में था। उसका पिता अनिल यादव पर भी हत्या का तीन मामला दर्ज है। फिलहाल वह जमानत पर है। पिता से विरासत में मिली अपराध की दुनियां की सौगात में वह शूटर बन गया। विलासिता की जीवन जीने की चाहत उसे अपराध की ओर ले गया। दरअसल वह अपने एक संबंधी जोगबनी निवासी हिटलर के संपर्क में आने के बाद अपराध के दुनियां में प्रवेश किया। हिटलर के कहने पर ही उसने जदयू अध्यक्ष की हत्या गोली मारकर की। उसने कई मामलों का उजागर किया है। जिसपर पुलिस काम कर रही है। पुलिस का कहना है कि गम्हरिया के जदयू नेता प्रखंड अध्यक्ष अशोक कुमार यादव उर्फ गरजु यादव हत्याकांड कांड में शूटर की भूमिका निभाने वाला हत्यारोपी निष्ठू कुमार उर्फ बौआ के साथ एक और व्यक्ति शामिल है। जिसकी तलाश की जा रही है। वहीं हत्या में प्रयुक्त हथियार की बरामदगी व अन्य बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी की जा रही है।

अबतक छह आरपित गिरफ्तार

पुलिस ने जदयू नेता हत्याकांड में अबतक छह आरोपी को गिरफ्तार करने में पुलिस ने सफलता हासिल की है। हत्याकांड के मुख्य षड्यंत्रकारी हत्यारोपी हिटलर यादव उर्फ रौशन यादव को पुलिस ने अरार ओपी थाना क्षेत्र से गिरफ्तार करने में सफलता पाई है। वहीं हत्याकांड में शामिल निष्ठु थाना पहुंचकर आत्मसमर्पण किया है। इससे पहले चार आरोपित प्रहलाद कुमार, सुरज दास और संदीप कुमार और बिटू कुमार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था।

जदयू अध्यक्ष अशोक यादव की हत्याकांड में निष्ठू उर्फ बौआ ने शूटर की भूमिका निभाई थी। उसने पूछताछ में कई बातें बताई है, जिसपर पुलिस काम कर रही है। जल्द ही सभी बदमाशों की गिरफ्तारी कर ली जाएगी। - संजय कुमार, एसपी मधेपुरा

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप