भागलपुर, जेएनएन। Coronavirus Bhagalpur News Update :  भागलपुर में कोरोना संक्रमितों की संख्या दिन व दिन बढ़ रहा है। मंगलवार को अब तक सबसे ज्यादा 13 मामले एक ही दिन मिले। इसमें से एक चार साल की बच्ची भी है। चार महिला और नौ पुरुष हैं। सिविल सर्जन डॉ. विजय कुमार सिंह ने बताया कि सभी का सैंपल रविवार को लिए गए थे। सभी प्रवासी हैं और क्वारंटन सेंटर में थे। मंगलवार को रिपोर्ट पॉजिटिव आई। सिविल सर्जन ने बताया कि जिले में संक्रमितों की संख्या 104 हो गई है। इसमें से 40 लोगों को डिस्चार्ज कर दिया गया है। 

प्रवासियों को क्वारंटाइन सेंटर से मिली छुट्टी

देश के मुंबई, पुणे, अहमदाबाद, राजकोट, बेंग्लुरू, कोलकाता और दिल्ली एनसीआर के अलावा अन्य प्रदेश से आने वाले प्रवासियों को शाहकुंड प्रखंड के विभिन्न क्वारंटाइन सेंटर से मंगलवार को छुट्टी दे दी गई।

घर भेजने से पूर्व सभी प्रवासी मजदूरों का चिकित्सक द्वारा स्क्रीनिंग जांच कर होम क्वारंटाइन में रहने की हिदायत दी गई है। वहीं किशनपुर अमखोरिया पंचायत के मुखिया राजेश कुमार यादव ने बताया कि तीन से 4 दिन तक उपरोक्त सात शहरों से आने वाले प्रवासियों के साथ इन प्रवासी मजदूरों का भी चेन बना था, लेकिन तीन 4 दिन के बाद इन लोगों को वापस घर भेज देने से गांव में संक्रमण फैलने की प्रबल संभावना बनेंगी। मुखिया ने बताया कि जिन प्रवासियों को क्वारंटाइन में तीन-चार दिन हो गया था, उन प्रवासी मजदूरों को कम से कम 14 दिन तक क्वारंटाइन सेंटर में रहने देना चाहिए था। वहीं इस बाबत प्रखंड विकास पदाधिकारी अमर कुमार मिश्र ने बताया कि सरकार के गाइडलाइन के अनुसार ही अन्य प्रदेश के आने वाले प्रवासी मजदूरों को होम क्वारंटाइन में भेजा जा रहा है।

कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आने वाले अन्य प्रवासियों की नहीं हुई जांच

शाहकुंड  प्रखंड के दो क्वारंटाइन सेंटर से तीन प्रवासियों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने पर उनके क्वारंटाइन सेंटर में पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आने वाले प्रवासी मजदूरों का मंगलवार को सैंपल जांच के लिए भागलपुर नहीं भेजा गया है और ना ही क्वारंटाइन सेंटर में किसी प्रकार का सैनिटाइज या बैरिकेडिंग करवाया गया है। हालांकि शाहकुंड के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ जयप्रकाश सिंह ने बताया कि हमने दोनों क्वारंटाइन सेंटर से कुल 20 प्रवासी मजदूरों का लिस्ट जो कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में था बनाकर जांच के लिए रखा है। लेकिन ऊपर से दिशा-निर्देश आने के बाद कि कितने लोगों को जांच के लिए भेजा जाएगा। 

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस