जागरण संवाददाता, सुपौल: जिला मुख्यालय के गौरवगढ़ के वार्ड नंबर 04 स्थित एक घर से फंदे में लटके मिले महिला के शव को पुलिस ने बरामद कर केस दर्ज किया है। मृतका की मां चंद्रिका देवी ने संगीन आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया है। मृतक महिला की मां का कहना है कि आशा देवी का पति और ससुराल वाले अवैध शराब कारोबारी हैं। उसकी बेटी उन्हें लगातार शराब का धंधा न करने के लिए कहती थी लेकिन वे उसपर ही हावी हो जाते थे। इसपर कई बार पिटाई भी की गई ।

चंद्रिका देवी ने कहा कि इस कारोबार को बंद करने के लिए मेरी बेटी ने कहा तो अबकी ससुराल वालों ने उसे फंदे पर लटकाकर मौत के घाट उतार दिया। उसने पुलिस को बताया कि आशा को उसके पति, सास, ससुर व भैंसुर मारते-पीटते थे। वे लोग शराब का कारोबार करते थे और उन लोगों को यह काम करने से मना करती थी। 27 सितंबर को भी वह इस चीज का विरोध करते हुए कही कि अगर शराब का कारोबार बंद नहीं करोगे तो थाने में जाकर खबर कर दूंगी, जिसके बाद उन लोगों ने उसे फंदे से लटका कर मार दिया।

इधर घटना के बाबत थानाध्यक्ष मनोज कुमार महतो ने बताया कि केस दर्ज कर लिया गया है और मृतका के पति और सास को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वहीं शव को पोस्टमार्टम करवा कर स्वजन को सौंप दिया गया है।

शराब के लिए हुई हत्याएं

शराब के चलते महिला की हत्या का ये पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी कई मामले संज्ञान में आ चुके हैं, जब भागलपुर में एक दिव्यांग ने शराब पीने के लिए पैसे देने से मना कर दिया तो उसकी मां को पीट-पीटकर मार डाला गया। हाल ही में 6 दिन पूर्व रोहतास में एक मर्डर हुआ। पढ़ें पूरी खबर..

Rohtas Crime: सासाराम के राजपुर में शराब के नशे में युवक की डंडे से पीटकर हत्या, पुलिस ने किया गिरफ़्तार

Edited By: Shivam Bajpai

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट