संवाद सहयोगी, किशनगंज। मद्यनिषेध के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए किशनगंज एसपी कुमार आशीष को पटना के ज्ञान भवन में उत्पाद पदक से सम्मानित किया गया। बिहार नशा मुक्ति दिवस के मौके पर शुक्रवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उन्हें उत्पाद पदक और प्रशस्ति पत्र प्रदान किया। कुमार आशीष सूबे के एक मात्र एसपी हैं जिन्हें मुख्यमंत्री के द्वारा सम्मानित किया गया है।

चालू वर्ष के दौरान एसपी के नेतृत्व में किशनगंज पुलिस अबतक एक लाख लीटर से ज्यादा शराब जब्त किया है और 500 से ज्यादा आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। बंगाल और नेपाल की सीमा से सटे रहने के कारण शराब बंदी को सफल बनाना पुलिस के लिए किसी चुनौतीपूर्ण रहा।

पुलिस की लगातार कार्रवाई से घबरा कर शराब तस्कर नित नए तरीके आजमाते रहे। फिर भी वह बच ना सके। इतना ही नहीं बंगाल के कुछ स्थानों में नकली शराब निर्माण किये जाने की सूचना पर एसपी ने बंगाल पुलिस के अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर तस्करों के ठिकाने पर लगातार छापेमारी करने से तस्करों की कमर टूट गई। हाल के दिनों में ही एसपी के निर्देश पर गठित पुलिस टीम ने गुप्त सूचना पर छापेमारी कर कुख्यात शराब तस्कर शाहिद प्रधान विश्वजीत सरकार उर्फ बासु दा को गिरफ्तार कर जेल भेजा है।

पुलिस कर्मियों ने लिया नशा नहीं करने का शपथ

नशा मुक्ति दिवस के अवसर पर ठाकुरगंज थाना परिसर में शुक्रवार को सर्किल पुलिस इंस्पेक्टर सुनील कुमार पासवान के नेतृत्व में शराबबंदी कानून के समर्थन में सभी पुलिस अधिकारियों व कर्मियों को शपथ दिलाई गई। इस दौरान थानाध्यक्ष मोहन कुमार, एसआई उदय प्रसाद स‍िंंह, विजय स‍िंंह, विनोद कुमार सहित सभी पुलिस अधिकारी व कर्मी ने मद्य निषेध की शपथ ली।

पुलिस इंस्पेक्टर सुनील पासवान ने बिहार में पूर्ण शराबबंदी को लेकर आजीवन शराब नहीं पीने, दूसरे को इसका सेवन नहीं करने का शपथ पत्र भरकर शपथ दिलाया। सभी पुलिसकर्मियों ने आजीवन शराब नहीं पीने की शपथ दिलवाई। इस दौरान थानाध्यक्ष ने कहा कि आजीवन शराब नहीं पीने के लिए और शराबबंदी को जड़ से खत्म करने के लिए यह शपथ दिलाई गई है। मौके पर सभी पुलिसकर्मियों ने इससे जुड़ा शपथ-पत्र भी भर व अपना हस्ताक्षर कर थाने में सुपुर्द किया।

टाउन थाना में पुलिस कर्मियों ने लिया नशा नहीं करने का शपथ

नशा मुक्ति दिवस के मौके पर इंस्पेक्टर राजेंद्र प्रसाद ने टाउन थाना में तैनात पुलिस कर्मियों को नशे से दूर रहने की शपथ दिलाई। अनुसंधान कक्ष में आयोजित कार्यक्रम के दौरान उपस्थित पुलिसकर्मियों ने नशे का सेवन नहीं करने और अपने आस पड़ोस के लोगों को भी नशाबंदी के प्रति प्रेरित करने की शपथ ली। इस मौके पर इंस्पेक्टर ने कहा कि राज्य में पूर्ण नशाबंदी लागू होने के बाद से आपराधिक घटनाओं के साथ साथ महिला उत्पीडऩ की घटनाओं में भारी कमी आई है। एसपी कुमार आशीष के नशामुक्त किशनगंज के सपने को साकार करने के लिए हम सब को मिलजुल कर प्रयास करना होगा।

महिला थानाध्यक्ष ने नशे से दूर रहने की शपथ दिलाई

शराबबंदी को सफल बनाने के लिए महिला थानाध्यक्ष पुष्पलता कुमारी ने अपने अधीनस्थ पुलिसकर्मियों को आजीवन शराब नहीं पीने और दूसरों को भी शराब का सेवन नहीं करने के लिए प्रेरित करने की शपथ दिलाई है। महिला थाना परिसर में आयोजित कार्यक्रम के दौरान थानाध्यक्ष ने कहा कि सूबे में वर्ष 2016 से शराब पीना, पिलाना और शराब का उत्पादन करना गैरकानूनी है। नशे की लत के कारण आज कई ङ्क्षजदगियां मौत के मुंह में शमा गई और कई परिवार उजड़ गये हैं। नशेडिय़ों को समाज में भी हेय ²ष्टि से देखा जाता है। इस बुराई को खत्म करने के लिए हमें नशे से दूर रहना होगा और आसपड़ोस के लोगों को भी नशे से दूर रहने के लिए प्रेरित करना होगा। इस मौके पर उपस्थित एस आई विजय पासवान, पूनम कुमारी, सिपाही सुषमा कुमारी सहित अन्य पुलिसकर्मियों ने शपथ-पत्र भी भरा और उसपर अपने हस्ताक्षर भी किए।

Edited By: Dilip Kumar Shukla