भागलपुर [जेएनएन]। कांवरियों को इस बार रास्ते में फब्बारा का मजा मिलेगा। धांधी बेलारी, कमरांय और नारदपुर में कांवरियों के उपर पानी का स्प्रे करने की निर्देश डीएम ने पीएचईडी विभाग को दिया है। पीएचईडी विभाग ने इसपर काम शुरू कर दिया है। डीएम ने पीएचईडी विभाग के अभियंताओं को निर्देश दिया कि मेला क्षेत्र में पानी संकट उत्पन्न न हो, इसके लिए सभी चापाकल को दस जुलाई के पहले दुरुस्त कर लिया जाए। सुल्तानगंज नगर क्षेत्र, कांवरिया पथ और ग्रामीण क्षेत्र में श्रद्धालुओं के लिए स्वच्छ एवं सुलभ पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है। कांवरिया पथ पर 252 स्थायी चापाकल पूर्व से है।

खराब चापाकल को दुरुस्त करने का काम किया जा रहा है। साथ नए चापाकल लगाने का काम भी शुरू किया गया है। मरम्मत किए गए चापाकल की रंगाई-पोताई का काम किया जा रहा है। पीएचईडी द्वारा लगाए गए चापाकल का रंग पीला एवं नगर परिषद द्वारा लगाए गए चापाकल का रंग सफेद होगा। रंग के हिसाब से रखरखाव संबंधित विभाग द्वारा किया जाएगा। कांवरिया पथ पर दस जगहों पर भैट है। एक भैट सीढ़ी घाट सुल्तानगंज एवं नौ भैट कांवरिया पथ पर है।

प्रत्येक भैट की क्षमता 3000 से 3500 लीटर की है। इसेमं लगे खराब नलों को बदलने एवं बोङ्क्षरग को ठीक किया जा रहा है। मेला क्षेत्र में 28 जगहों पर बोरवेल द्वारा जलापूर्ति की व्यवस्था की गई है। कांवरियों के लिए असियाचक, कामरांय, धांधी बेलारी और तेघरा में 50 यूनिट स्थायी शौचालय एवं सीढ़ी घाट पर 20 यूनिट यूरिनल की व्यवस्था की जा रही है। सीढ़ी घाट में अवस्थित वीआइपी शौचालय की मरम्मत एवं रंगरोगन का काम शुरू है। मेला क्षेत्र में 12 जगहों पर आरओ सिस्टम से पानी की आपूर्ति होगी।

आवश्यकतानुसार इसकी संख्या और भी बढ़ाई जा सकती है। भीड़भाड़ वाले क्षेत्र में आवश्यकतानुसार टेंकर से भी जलापूर्ति की व्यवस्था भी की जाएगी। शौचालय की साफ-सफाई नियमित रूप से होगी। चेंजिंग रूम की व्यवस्था होगी, जिसमें कांवरियों को किसी प्रकार की असुविधा नहीं होगी। मेला क्षेत्र में सार्वजनिक स्थलों पर जेई, एई के नंबरों के साथ सूचना पट्ट लगाए जाएंगे। जयनगर रोड, जयनगर बगीचा, मुरली पहाड़, मुक्तिधाम, प्रोफेसर कॉलोनी, थाना कैंपस, एके गोपालन कॉलेज, धांधी बेलारी, तेघरा, लखनपुर क्षेत्र में अस्थायी शौचालय की व्यवस्का रहेगी।

नगर परिषद क्षेत्र में जगह-जगह कूड़ादान लगाएं जाएंगे। शौचालय सफाई के लिए प्रेशर मशीन खरीदने का निर्देश दिया गया है। नाव, नाविक, एसडीआरएफ की टीम घाट पर गश्त करेगी। बिना पहचान पत्र के कोई भी कारोबारी मेला क्षेत्र में नहीं रहेगा। मेला के लिए एक एप चालू रहेगा, जिसमें सारी सूचनाएं रहेंगी। मेला क्षेत्र में प्लास्टिक के उपयोग पर रोक रहेगी। एनएच पर जगह-जगह सूचना पट्ट लगेगा, ताकि कांवरियों को सुल्तानगंज पहुंचने में दिक्कत नहीं होगी। बाइपास पर भी सूचना पट्ट लगेगा, ताकि कांवरिया उस रास्ते सीधे सुल्तानगंज पहुंचेंगे। कांवरिया पथ पर जगह-जगह पुलिस और दंडाधिकारी तैनात रहेंगे। स्टेशन पर हेल्प लाइन की सुविधा रहेगी। मेला क्षेत्र में एनसीसी और स्काउट एंड गाइड तैनात रहेंगे।

Posted By: Dilip Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप