संवाद सूत्र, राघोपुर(सुपौल)। इस देश का विकास तभी संभव होगा, जब देश के सभी जाति वर्ग के लोगों को उनका अधिकार मिलेगा। इसके लिए जाति आधारित जनगणना समय की मांग है। उक्त बातें जदयू संसदीय बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने गुरुवार को बिहार जनसंवाद यात्रा के दौरान राघोपुर के डाक बंगला परिसर में जनसभा को संबोधित करते हुए कही।

कहा कि जातीय जनगणना को लेकर पक्ष-विपक्ष सभी एकजुट होकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात कर जनगणना कराने का आग्रह भी किया है। कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की नीति व नीयत साफ है वे बिहार के विकास के लिए दिन-रात एक कर कार्य कर रहे हैं।

मौके पर उन्होंने सरकार की उपलब्धियां सड़क, बिजली, स्वच्छ जल आदि चलाई जाने वाली कल्याणकारी योजनाओं पर चर्चा करते हुए कहा कि मैं मुख्यमंत्री की ओर से चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी आपके बीच देने आया हूं। उन्होंने सरकार की योजनाओं को गिनाते कहा कि अगर इस योजना का लाभ लेने में कोई परेशानी आ रही हो तो जिले के जदयू कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों से संपर्क कर अवगत कराएं। आपकी समस्याओं का तुरंत निदान होगा।

जदयू बनेगी नंबर वन पार्टी

संवाद यात्रा के दौरान कुशवाहा ने कहा कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में पार्टी कार्यकर्ताओं के बदौलत जदयू बिहार की नंबर वन पार्टी बनेगी। कहा कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में बिहार में कानून का राज स्थापित हुआ है। न्याय के साथ विकास व हर हाथ को रोजगार मिला है। अब कार्यकर्ताओं को नीतीश कुमार के हाथों को मजबूत करने के लिए जमकर काम करना होगा।

जिससे पार्टी प्रदेश में नंबर वन की पार्टी बन सके। उन्होंने कहा कि सीएम नीतीश के नेतृत्व में जो विचारधारा 1994 से शुरू हुई थी, उसे मजबूती देते हुए कार्यकर्ता जमीनी मतभेद से ऊपर उठकर पार्टी को मजबूत करें, ताकि मुख्यमंत्री के बेहतर एवं समृद्ध बिहार का सपना साकार हो सके। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार संवाद यात्रा दौरान बिहार भर में मेरा स्वागत किया गया है, उससे एक बात तो साफ है कि कार्यकर्ता पार्टी को मजबूत करने का संकल्प ले चुके हैं।

कार्यक्रम को सांसद दिलेश्वर कामत, पिपरा विधायक रामविलास कामत, पूर्व विधायक लखन ठाकुर आदि ने संबोधित कर पार्टी को मजबूत करने की अपील की। मौके पर राजकिशोर कुशवाहा, जगदीश प्रसाद यादव, ओमप्रकाश यादव, किशन मंडल, पप्पू कुशवाहा, जदयू प्रखंड अध्यक्ष डा. कमल प्रसाद यादव, बैद्यनाथ यादव, नूर आलम, मु एकलाख, नरेंद्र यादव, मनोज यादव, पूनम देवी, किशोरी साह, नथुनी मंडल, अमरदेव कामत, प्रो सुनील मेहता, रणविजय ङ्क्षसह, राजकिशोर कुशवाहा, चंदन बागची, रेखा गुप्ता, इसराइल राइन, भगवान चौधरी, खुर्शीद आलम, प्रमोद मंडल, गौतम कुमार, धर्मपाल मेहता, बैद्यनाथ प्रसाद यादव, भगवान चौधरी, चंदन कुमार मेहता, नूर आलम, पूनम देवी, गोपाल चांद, मनोज यादव, चंदेश्वर प्रसाद साह, अखलाक अहमद, रामचंद्र यादव, महेंद्र गुप्ता, जीवनेश्वर साह आदि मौजूद थे।  

Edited By: Abhishek Kumar