भागलपुर [जेएनएन]। भागलपुर में 2014 में हुए विधानसभा उपचुनाव में भाजपा हार गई थी। ठीक पांच वर्ष बाद नाथनगर में हुए उपचुनाव में एनडीए के घटक जदयू ने जीत दर्ज कर गठबंधन की लाज बचाई और पांच वर्ष पूर्व उपचुनाव में भागलपुर में मिली हार का हिसाब चुकता कर लिया। 2014 के लोकसभा चुनाव में भागलपुर के विधायक रहे अश्विनी कुमार चौबे ने बक्सर लोकसभा सीट से जीत हासिल की थी। लोकसभा चुनाव जीतने के कारण चौबे ने भागलपुर विधानसभा की सीट खाली की थी।

उनके रिक्त सीट पर हुए विधानसभा उपचुनाव में भाजपा के प्रत्याशी नभय कुमार चौधरी को कांग्रेस के उम्मीदवार अजीत शर्मा ने हरा दिया था। 2019 के लोकसभा चुनाव में नाथनगर के विधायक रहे अजय कुमार मंडल को पार्टी ने मैदान में उतारा था। मंडल लोकसभा चुनाव जीत गए। लोकसभा जाने के कारण उन्हें नाथनगर सीट खाली करना पड़ा जहां गत 21 अक्टूबर को उपचुनाव हुआ और 24 अक्टूबर को परिणाम आया। यह सीट जदयू की थी, इसलिए उपचुनाव में जदयू ने पूर्व जिला अध्यक्ष रहे लक्ष्मीकांत मंडल को टिकट दिया।

हालांकि जदयू उम्‍मीदवार को इस उपचुनाव में जीत का स्वाद चखने में काफी परेशानी हुई। केंद्र और राज्य में एनडीए की सरकार रहते तथा उपचुनाव में सरकार के मंत्रियों और संगठन के शीर्ष नेताओं के प्रचार और सघन अभियान के बाद भी जदयू प्रत्याशी को अंतिम राउंड तक काफी मेहनत करनी पड़ी। हालांकि राजनीतिक विश्लेषक मानते हैं कि अगर इस उपचुनाव में वाई मतों का विभाजन नहीं होता तो पार्टी और संगठन के हाथ से यह सीट भी चली जाती।

वर्तमान जिला परिषद् के सदस्य डॉ.अशोक कुमार आलोक 13437 मत लाकर तीसरे स्थान पर रहे। उनके द्वारा खासकर यादव मतों को अपने खाते में लेना, जदयू उम्मीदवार की जीत का मार्ग प्रशस्त कर दिया। विधानसभा उपचुनाव का रिजल्ट एनडीए के हक में ठीक नहीं रहा है। राज्य में पांच स्थानों पर विधानसभा का उपचुनाव हुआ। सिर्फ नाथनगर सीट ही जदयू या एनडीए बचाने में सफल रहा। नाथनगर सीट पर जदयू को राजद से कड़ी टक्कर मिली थी। उनकी जीत का एक कारण यह भी है कि इस उपचुनाव में जदयू के साथ भाजपा और लोजपा भी थी। इसके अलावा जदयू उम्मीदवार लक्ष्मीकांत मंडल का नाथनगर गृह क्षेत्र होने के कारण भी उनको फायदा मिला। विरोधी दलों के कार्यकर्ता भी उनकी छवि की प्रशंसा करते हैं। लक्ष्मीकांत मंडल जिला परिषद् के पांच वर्ष सदस्य रहने के साथ-साथ जदयू के करीब एक दशक तक अध्यक्ष भी रहे हैं।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस