भागलपुर, जेएनएन। जदयू के एक प्रदेश नेता ने नवग‍‍छिया जिला प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि अधिकारियों ने प्रवासियों पर ध्यान नहीं दिया। इस कारण राज्य सरकार की आलोचना हो रही है। क्वारंटाइन सेंटर में व्यवस्था नहीं है। प्रवासियों को रहने की जगह नहीं है। क्वारंटाइन सेंटर में शारीरिक दूरी का पालन नहीं किया जाता। जदयू नेता शीघ्र ही क्वारंटाइन सेंटर की स्थिति में सुधार करने को कहा। 

बिहपुर प्रखंड के औलियाबाद में जदयू सहकारिता प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष पप्पू सिंह निषाद ने प्रेसवार्ता के दौरान कहा कि सरकारी महकमे स्थानीय अधिकारी सूबे की सरकार को बदनाम करने मे लगे हुए हैं। जब राज्य सरकार क्वारंटाइन सेंटर के बारे मे बता रही है कि वहां प्रवासियों को किसी भी प्रकार का दिक्कत न हो। फिर भी जो भी प्रवासी आ रहे हैं, उनमें कितने लोगों को सेंटर में जगह तक नहीं मिल पा रहा है। जिसके कारण कई प्रवासी अपने घर चले जा रहे है। जिन्हें जगह मिल भी जाती है उन्हें हर तरह की सुविधा नहीं मिल पा रहा है। यहां के बीडीओ, सीओ बेफिक्र होकर घूम रहे हैं। अपराधी बेफिक्र होकर घटना को अंजाम दे रहे है। बीच बाजार में किराना व्यवसायी पप्पू पंडित की हत्या कर अपराधी फरार हो गया। पुलिस सात दिन बाद भी अपराधी को गिरफ्तार करने में नाकाम है। कोसी हो या गंगा किनारे अपराधी किसानों को तंग कर रहे हैं। किसानों की फसलें लूटी जा रही हैं, लेकिन पुलिस हाथ पे हाथ धरे रह जाती है। उन्‍होंने कहा कि वे मुख्यमंत्री से मिलकर नवगछिया पुलिस जिले में प्रशासन की कार्यशैली को बताएंगे। 

छात्र जदयू के क्षेत्रिय प्रभारी बने अजय रविदास

बिहार विधानसभा 2020 के मद्देनजर सूबे के सभी जिलों में क्षेत्रीय प्रभारी की मनोनीत किया गया है। इसके तहत नारायणपुर के छात्र जदयू के प्रदेश सचिव अजय रविदास को संगठनात्मक जिला नवगछिया एवं खगडिय़ा का क्षेत्रीय प्रभारी मनोनीत किया गया है।

मुख्यमंत्री ने वीसी के माध्यम से की प्रवासियों से वार्ता

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सुल्तानगंज प्रखंड कार्यालय में बनाए गए क्वारंटाइन सेंटर पर रह रहे प्रवासियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने तीन लोगों से बात की। उन्होंने प्रवासी मजदूरों से खाने पीने और साफ-सफाई के बारे में पूछा। इस दौरान प्रवासी मजदूरों ने उन्हेंं बताया कि सर हम लोगों को सेंटर पर सभी मूलभूत सुविधा दी जा रही है। फिर उन्होंने पूछा आप लोग कहां से और कैसे आए तो दिल्ली से लौटे एक राजमिस्त्री सुमन ने बताया कि बिहार में रोजगार नहीं रहने के कारण परिवार का जीवन यापन करने के लिए परदेश जाना पड़ता है यदि रोजगार यही उपलब्ध हो तो हम लोग क्यों जाएंगे।

वहीं अमरेश कुमार ने भी यही बताया। फिर कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान महिला चांदनी देवी से बात की। उनसे क्वारेंटाइन सेंटर पर मिलने वाली सुविधाओं के बारे में जानकारी ली साथ ही साथ उनसे पूछा कि आप क्या करती हैं तो उसने बताया कि मैं दिल्ली में ड्रॉइंग और पेंटिंग का काम करती हूं। इस दौरान मुख्यमंत्री ने क्वॉरेंटाइन केंद्रों पर रहे सभी प्रवासियों का पूरा सर्वे कराने का निर्देश दिया कौन किस प्रदेश से आया है और वह कौन सा रोजगार करता है उन सभी की जानकारी ली जाए साथी सूक्ष्म व लघु उद्योग को बढ़ावा देकर इन सभी कामगार मजदूरों को रोजगार देने की हर संभव मदद करने को कहा। मौके पर अपर समाहर्ता राजेश झा राजा एसडीओ आशीष नारायण डीसीएलआर बृजेश कुमार बीडीओ प्रभात रंजन सीओ शशिकांत कुमार एवं नगर मिशन प्रबंधक मुकेश सिंह मौजूद थे।

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस