जागरण संवाददाता, भागलपुर। Indian Railways News : बरियारपुर और कल्याणपुर रोड स्टेशन के बीच डाउन ट्रैक दुरुस्त कर लिया गया है। अब किउल भागलपुर के बीच दोनों ट्रैक पर गाड़ियां चल रहीं हैं। सुबह चार बजे के आसपास ट्रेनों का परिचालन डाउन लाइन से शुरू हो गया। क्षतिग्रस्त रेलवे ट्रैक को दुरुस्त करने के बाद लाइट इंजन सबसे पहले गुजरी। इसके बाद डीआरएम स्पेशल ट्रेन उसी ट्रैक से गुजरी।

ओके रिपोर्ट देने के बाद ट्रेन परिचालन पूरी तरह सामान्य हो गया। हालांकि, अभी कुछ दूरी तक उस रेलवे ट्रैक पर 20 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ही ट्रेनें चलेंगी। सुबह से क्यूल से भागलपुर आने वाली ट्रेन है बरियारपुर से ऑफलाइन सेना गुजर कर डाउन लाइन से गई ट्रेन परिचालन सामान्य होने के बाद यात्रियों को बड़ी राहत मिली है। मालदा रेल मंडल के डीआरएम यतेंद्र कुमार सहित अन्य अधिकारी परिचालन शुरू होने के बाद ही मंडल मुख्यालय रवाना हुए। गुरुवार की शाम से शनिवार की सुबह तक रेलवे की पूरी टीम पटरी को दुरुस्त करने में जुटी रही। डीआरएम ने कहा कि बारिश की वजह से विलंब हुआ। अब रेलवे ट्रैक परिचालन के लिए पूरी तरह फीट है। ट्रैफिक इंस्पेक्टर पीके राजहंस, साहिबगंज सेक्शन के ट्रैफिक इंस्पेक्टर बीबी तिवारी और पीडब्ल्यूआई की पूरी टीम मुस्तैद रही।

बांका-साहिबगंज-जमालपुर रेल सेक्शन पर विशेष निगरानी

बारिश और संभावित बाढ़ को देखते हुए रेलवे पूरी तरह अलर्ट मोड पर है। पटरियों पर पानी आ जाने और कई स्थानों पर पुलों पर बाढ़ के पानी के भारी दबाव के कारण रेल परिचालन बाधित हो जाता है। इसके मद्देनजर मानसून के दौरान होने वाली परेशानियों से निपटने के लिए मालदा रेल मंडल ने एहतियाती कदम उठाया है। मानसून को लेकर अलर्ट मोड पर रहेगा। भागलपुर-जमालपुर रेल सेक्शन पर खड़िया पिपिरा से लेकर बरियारपुर, साहिबगंज रेल सेक्शन पर लैलख से लेकर कहलगांव, भागलपुर-बांका रेल सेक्शन पर 24 घंटे अलग-अलग शिफ्ट में विशेष पेट्रोलिंग करने का निर्देश दिया गया है। डीआरएम ने गैंगमैन और ट्रैक मैन सहित पूरी टीम को पूरी तरह चौकस रहने को कहा है। साथ ही कहीं पर गड़बड़ी मिले तो इसकी सूचना तुरंत संबंधित स्टेशन को देने की बात कही है।