जागरण संवाददाता, भागलपुर। खेती-किसानी के मामले में कृषि विभाग के कर्मी समृद्ध होंगे। कर्मियों को खेती-किसानी से संबंधित पूरी जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी। इसके लिए उन्हें प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रशिक्षण के बाद कर्मी गांव-गांव जाकर किसानों को प्रशिक्षित करेंगे। कृषि विभाग के निर्देश पर आत्मा द्वारा प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। सोमवार से प्रखंड स्तर पर प्रशिक्षण का कार्यक्रम शुरू होगा, जिसमें रबी से संबंधित फसल पर विशेष चर्चा होगी।

इससे पूर्व जिला स्तर पर प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें कृषि विभाग के कर्मी, पदाधिकारी, किसान सलाहकार, आत्मा, पशुपालन, नाबार्ड, मत्स्य, कृषि विज्ञान केंद्र, पौधा संरक्षण, मिट्टी जांच, सहकारिता विभाग के कर्मी के अलावा प्रगतिशील किसान, किसान श्री, किसान गौरव ने हिस्सा लिया। फसल अवशेष प्रबंधन, बीज ग्राम, मुख्यमंत्री तीव्र बीज विस्तार, एकीकृत बीज ग्राम योजना, जैविक खेती प्रोत्साहन कार्यक्रम आदि के संबंध में जानकारी दी गई। 25 अक्टूबर से नौ नवंबर तक आयोजित होने वाले कर्मशाला में जिला व प्रखंड स्तरीय अधिकारियों द्वारा किसानों को योजनाओं से संबंधित जानकारी दी जाएगी।

पंचायतों में आज से घूमेगा रथ

किसानों को जागरूक करने के लिए किसान रथ भागलपुर पहुंच गया है। शनिवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पटना में किसान रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था। सोमवार से सभी 242 पंचायतों में रथ घूमेगा। रथ पर एलइडी लगा रहेगा। इसके माध्यम से किसानों को जागरूक किया जाएगा। सफल किसानों की स्टोरी दिखाई जाएगी।पराली अवशेष प्रबंधन पर वृत्तचित्र दिखाया जाएगा।

अमृत महोत्सव आज से

जिले के 16 में से 11 प्रखंडों में अमृत महोत्सव मनाया जाएगा। 25 से 30 अक्टूबर तक चलने वाले अमृत महोत्सव में विभिन्न विषयों पर किसान गोष्ठी का आयोजन किया जाएगा। पशुपालन के क्षेत्र में किसान क्या कर सकते हैं, पूरी जानकारी दी जाएगी। कृषि और उद्यान के संबंध में भी जानकारी दी जाएगी।

रबी फसल को लेकर कृषि से जुड़े कर्मियों से लेकर किसान तक को प्रशिक्षित किया जाएगा। किसानों के हित में बात होगी। किसानों को भी प्रशिक्षित किया जाएगा। प्रभात कुमार सिंह, उप परियोजना निदेशक आत्मा

Edited By: Dilip Kumar Shukla