भागलपुर [जेएनएन]। युवा राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व सांसद शैलेश कुमार उर्फ बुलो मंडल ने सोमवार को संवाददाता सम्मेलन कर कहा है कि ईवीएम से मिला जनादेश जनता का जनादेश नहीं है। ईवीएम से डाटा चोरी कर नरेंद्र मोदी ने प्रचंड बहुमत हासिल कर सरकार बनाई है। यह जीत किसी के गले नहीं उतर रही है। देश की जनता ईवीएम की जगह बैलेट पेपर से चुनाव चाहती है। लोकतंत्र बचाने के लिए बैलेट पेपर को वापस लाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि ईवीएम बनाने वाला देश जापान और अमेरिका में भी बैलेट पेपर से चुनाव हो रहा है। लेकिन भारत में 23 विपक्षी पार्टियों की मांग के बावजूद चुनाव आयोग और मोदी सरकार बैलेट पेपर पर चुनाव नहीं कराना चाह रही है।

उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में ईवीएम में इस प्रकार की लूट पहली बार हुई है। जीत-हार में जिस तरह के आंकड़े आए हैं, साजिश साफ नजर आ रही है। तमाम सीटें ऐसी हैं, जहां जीत-हार के आंकड़े पर विजयी प्रत्याशी खुद यकीन नहीं कर पा रहे हैं। सरकारी एजेंसियों के सहयोग से व्यवस्थित तरीके से कार्य को अंजाम दिया गया है। कहीं लोभ दिखाकर तो कहीं भय दिखाकर काम कराया गया है। उन्होंने कहा कि ईवीएम में हुई गड़बड़ी की जांच के लिए एक कमेटी बनाई गई है। कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। मामले को सुप्रीम कोर्ट ले जाया जाएगा। उन्होंने कहा कि सभी विपक्षी पार्टियों को ईवीएम के मुद्दों पर एकजुट होकर ईवीएम हटाआ, लोकतंत्र बचाओ के लिए आंदोलन करने की जरूरत है।

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Dilip Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप