भागलपुर [बलराम मिश्र]

भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (ट्रिपल आइटी) सिगापुर के संस्थान के साथ मिलकर इंडस्ट्री ओरिएंटेड पीजी डिप्लोमा कोर्स की शुरुआत करेगा। इसके लिए बोर्ड आफ गर्वनर्स (बीओजी) ने अनुमति दे दी है। इसकी प्रक्रिया जल्द शुरू होगी।

ट्रिपल आइटी, भागलपुर के निदेशक प्रो. अरविद चौबे ने बताया कि इसके लिए पूर्व से ही तैयारी की जा रही थी। प्रस्ताव को बीओजी की बैठक में रखा गया था। जिस पर सहमति मिल गई है। इस कोर्स के शुरू होने से छात्रों को बाहर नहीं जाना होगा। अभी इस कोर्स में सीटों की संख्या तय नहीं है। जल्द ही इसके बारे में सूचना जारी की जाएगी।

भेजा जाएगा पत्र

ट्रिपल आइटी के पीआरओ डा. धीरज कुमार सिन्हा ने बताया कि कोर्स को शुरू करने के लिए सिगापुर के संस्थान यांगपु एक्जक्यूटिव एजुकेशन एंड इडीयू क्लास के साथ करार किया जाएगा। इसके लिए पत्र भेजा जाएगा। डा. सिन्हा ने बताया कि निदेशक के प्रयास से इस कोर्स की शुरूआत होगी। वे इसके लिए लगातार प्रयासरत थे। उन्होंने कोर्स के बारे में बताया कि यह पीजी डिप्लोमा दो वर्षों का होगा। इसमें छात्रों को छह माह का कोर्स वर्क ट्रिपल आइटी में पूरा करना होगा। कोर्स वर्क पूरा होने के बाद सिगापुर के संस्थान द्वारा छात्रों को डेढ़ साल के लिए इंडस्ट्री प्रोजेक्ट में लगाया जाएगा। इसके बदले उन्हें मानदेय भी मिलेगा। पीआरओ ने बताया कि इसके लिए और भी नियम तय किए गए हैं। इस कोर्स में प्रवेश के लिए जांच परीक्षा ली जाएगी। इसके माध्यम से ही नामांकन होगा। यह कोर्स इंडस्ट्री ओरिएंटेड पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा सर्टिफिकेट कोर्स, साफ्टवेयर इंजीनियरिग एंड डिजिटल बिजनेस मैनेजमेंट है। इसमें साफ्टेवयर के साथ डिजिटल बिजनेस के बारे में छात्रों को पढ़ाया जाएगा। सिगापुर के संस्थान के साथ करार के बाद संबंधित कोर्स के लिए सिगापुर से भी फैकल्टी छात्रों को पढ़ाएंगे। वहां के विशेषज्ञ छात्रों को गाइड भी करेंगे।

--------------------

कोट :

ट्रिपल आइटी और सिगापुर की संस्था इस कोर्स की शुरुआत करेगी। इसके लिए प्रक्रिया चल रही थी। बीओजी से इसकी अनुमति मिल गई है।

- प्रो. अरविद चौबे, निदेशक ट्रिपल आइटी

Edited By: Jagran