बांका [जेएनएन]। बांका जिले के शंभूगंज प्रखंड के बेला गांव में अवैध संबंध की आशंका से पति ने पत्नी सूमा देवी (28 वर्ष) की गोलीमार हत्या कर दी। महिला की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। पुलिस ने हत्यारे पति कुनोदी ऊर्फ कर्ण यादव एवं उसके भांजा आशीष कुमार को एक देसी कट्टा एवं दो गोलियों के साथ गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस गिरफ्त में आए कुनोदी ने कहा कि उसकी पत्नी का किसी गैर मर्द से प्रेम प्रसंग था। इसी कारण उसकी हत्या की गई है। कुनोदी भागलपुर जिले के सुलतानगंज थाने के शिवनंदनपुर मोहल्ले का रहने वाला है। वह मंगलवार को पत्नी के साथ बेला में रहने वाले बहनोई मृत्युंजय यादव के घर आया था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए बांका सदर अस्पताल भेज दिया है।

जानकारी के अनुसार कुनोदी की शादी 2010 में नवगछिया थाने के दादपुर गांव के सदानंद यादव की पुत्री सुमा से हुई थी। उन दोनों के दो लड़के सोनू और मोनू तथा एक बेटी अन्नया कुमारी हैं। कुनोदी का कहना है कि उसकी पत्नी सुमा पिछले कई माह से चोरी छिपे पड़ोसी मुरारी यादव से मिलती थी। पुलिस के अनुसार, आरोपित कुनोदी ने बिहपुर थाने के हरियो गांव से चचेरे भांजे आशीष कुमार को बुलाकर शंभूगंज के बेला गांव में रहने वाली बहन रूबी देवी एवं बहनोई मृत्युंजय यादव के घर जाने की योजना बनाई।

वहां पहुंचने पर कुनोदी व आशीष ने मिलकर सूमा को गोलियों से भून डाला। लगातार तीन गोलियां लगने से उसकी तुरंत मौत हो गई। गोलियों की आवाज सुनकर बहन-बहनोई सहित आसपास के ग्रामीण सकते में आ गए। सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और घटना की जांच में जुट गई। पुलिस को देखते ही दोनों हत्यारे छिप गए। बाद में उन्होंने पुलिस पर फायरिंग करने की भी धमकी दी। लेकिन पुलिस ने चतुराई से दोनों को गिरफ्तार कर लिया। घटना के बाद बहन-बहनोई सदमे में हैं।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021